Tag Archives: Current Affairs International News

वैश्विक मानव पूंजी रिपोर्ट, 2017

global human capital report 2017

भूमिका कुशल, सेहतमंद और सुशिक्षित नागरिक ही किसी देश के विकास की कुंजी होते हैं। अर्थशास्त्र की भाषा में इसे ‘मानव पूंजी’ (Human Capital) कहा जाता है। उत्पादन के चार साधनों भूमि, श्रम, पूंजी तथा उद्यम में से श्रम तथा

‘भारत-मलेशिया उजाला ज्योति योजना’

India Malaysia Ujala Jyoti Yojana

5 जनवरी, 2015 को दुनिया का सबसे बड़ा और विस्तारित एलईडी वितरण कार्यक्रम ‘उजाला’ (UJALA : Unnat Jyoti by Affordable Lighting for All) का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया। यह योजना ऊर्जा दक्षता की अवधारणा को आगे बढ़ाने

अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान के दक्षिण एशिया क्षेत्रीय केंद्र की स्थापना

Establishment of South Asia Regional Center of International Rice Research Institute

भारत में आज भी लगभग 55 प्रतिशत से अधिक जनसंख्या के लिए कृषि जीविकोपार्जन का मुख्य साधन है। लगातार बढ़ती जनसंख्या के भरण-पोषण हेतु कृषि उत्पादन को बढ़ाने के लिए आवश्यक है कि कृषि अनुसंधान को बढ़ावा दिया जाए, जिससे

22वां विश्व पेट्रोलियम सम्मेलन

22nd World Petroleum Conference

भारत की बढ़ती जनसंख्या औद्योगिकीकरण तथा शहरीकरण के प्रभाव में मानव की ऊर्जा जरूरतें इतनी बढ़ गई हैं कि, वाणिज्यिक ऊर्जा का महत्व बढ़ गया है। वाणिज्यिक ऊर्जा से तात्पर्य बड़े पैमाने पर ऊर्जा की सतत उपलब्धता सुनिश्चित कराना है।

सुरक्षा मुद्दों पर ब्रिक्स सम्मेलन

BRICS Conference on Security Issues

जुलाई, 2017 में चीन के बीजिंग शहर में सुरक्षा मुद्दों पर आयोजित सातवां ब्रिक्स उच्चस्तरीय सम्मेलन काफी सुर्खियों में रहा। इस सम्मेलन में ब्रिक्स देशों के सुरक्षा सलाहकारों ने शिरकत कर क्षेत्रीय सुरक्षा चिंताओं के सार्थक समाधान हेतु विमर्श किया।

2019 : देशीय भाषाओं का अंतरराष्ट्रीय वर्ष

International Year of Indigenous Languages

23 दिसंबर, 1994 को ‘संकल्प 49/214′ (Resolution 49/214) के माध्यम से संयुक्त राष्ट्र महासभा ने प्रतिवर्ष 9 अगस्त को ‘विश्व के देशीय लोगों के अंतरराष्ट्रीय दिवस’ (International Day of the World’s Indigenous Peoples) के रूप में मनाने का निर्णय लिया

प्रधानमंत्री की त्रि-देशीय यात्रा

Prime Minister's visit to the three countries

वर्तमान वैश्विक परिदृश्य में विदेश यात्रायें अंतरराष्ट्रीय राजनय की महत्वपूर्ण अंग बन चुकी हैं। किसी भी देश के चतुर्मुखी विकास में बेहतर वैश्विक संबंधों की अहम भूमिका रही है। विश्व के सभी देश वैश्विक स्तर पर आपसी सहयोग एवं आदान-प्रदान के

विश्व सैन्य व्यय प्रवृत्ति, 2016

World military expenditure trend

भूमिका वर्तमान विश्व परिदृश्य में सैन्य शक्ति बनने की होड़-सी लगी हुई है। आज सैन्य शक्ति, सुरक्षा के साथ-साथ आर्थिक राजनैतिक हितों को साधने का भी एक महत्वपूर्ण उपकरण बन गई है। वर्तमान विश्व में क्षेत्रीय तनावों/युद्धों तथा आर्थिक अस्थिरता

अहमदाबाद : भारत का पहला विश्व धरोहर शहर

ahmedabad india's first world heritage city

विश्व धरोहर समिति की 41वीं बैठक यूनेस्को की ‘विश्व धरोहर समिति’ (World Heritage Committee) की 41वीं वार्षिक बैठक 2-12 जुलाई, 2017 के मध्य क्राकाओ, पोलैंड में संपन्न हुई। इस बैठक के दौरान समिति द्वारा विश्व भर के कुल 21 नए

उष्णकटिबंधीय चक्रवात ‘मोरा’

Tropical Cyclone

पृथ्वी पर आने वाले प्राकृतिक आपदाओं में चक्रवाती तूफानों की बारंबारता सर्वाधिक है। इसका निर्माण तब होता है, जब सतह की वायु के गर्म होकर ऊपर उठ जाने के कारण किसी स्थान पर निम्न वायुदाब क्षेत्र का निर्माण हो जाता

यूएनएचसीआर ग्लोबल ट्रेंड्स रिपोर्ट

UNHCR Global Traders Reports

विस्थापित होना एक हादसा ही है, जरूरत है इस हादसे से पहले उठाए जाने वाले कदमों की। वर्तमान में संपूर्ण विश्व युद्ध, हिंसा, आतंकवाद की विभीषिका से त्रस्त है। जिससे पलायन करने वाले लोगों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होती

वैश्विक नवाचार सूचकांक, 2017

Global innovation index 2017

सामान्यतः नवाचार नवीन विचारों, वस्तुओं, पद्धतियों, प्रणालियों तथा नए प्रयासों से संबंधित है। सामाजिक, आर्थिक विकास क्रम में मानव अपनी आवश्यकताओं को पूर्ण करने के लिए सदैव नई-नई वस्तुओं, तकनीक एवं ज्ञान का अन्वेषण करता रहता है, इसे ही ‘नवाचार’

सामाजिक प्रगति सूचकांक, 2017

Social progress index2017

पिछली आधी सदी के दौरान हुए आर्थिक विकास ने करोड़ों लोगों को गरीबी के स्तर से ऊपर उठाकर उनके जीवन में सुधार किया है। लेकिन मात्र आर्थिक प्रगति के आधार पर मानव विकास का मॉडल अधूरा साबित हुआ है और

भारतीय प्रधानमंत्री की श्रीलंका यात्रा

indian pm visit shri lanka

पृष्ठभूमि श्रीलंका सामरिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक एवं आर्थिक दृष्टि से भारत का महत्वपूर्ण पड़ोसी देश है। दोनों देशों की बौद्धिक, सांस्कृतिक, धार्मिक और परस्पर भाषायी संबंधों की एक विरासत है। हाल के वर्षों में सभी स्तरों पर दोनों देशों के मध्य

ईरान में 12वें राष्ट्रपतीय चुनाव

12th presidential election in Iran

पृष्ठभूमि मध्य-पूर्व में स्थित ईरान अपनी भौगोलिक स्थिति (यूरोप-एशिया के मध्य) के कारण प्राचीन समय से ही वैश्विक पटल पर एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। वर्ष 1935 तक ‘फारस’ के नाम से प्रसिद्ध यह देश प्राचीन काल में महान साम्राज्यों

पेरिस समझौते से अलग हुआ अमेरिका

America separated from Paris agreement

पृष्ठभूमि वर्तमान में विश्व के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती के रूप में पर्यावरणीय समस्या विद्यमान है। यह एक बहुआयामी समस्या है। एक तरफ गरीबी से ग्रस्त देश जहां इसे जटिल बना रहे हैं, वहीं विकसित देशों की विकास के लिए

भारत-संयुक्त राष्ट्र विकास भागीदारी निधि

PalestiIndia - United Nations Development Partnership Fundne

वैश्विक परिदृश्य में भारत विकासशील देशों के सशक्त नेतृत्वकर्ता के रूप में तेजी से उभर रहा है। एक बेहतर विश्व के निर्माण में श्रम शक्ति एवं संसाधनों के रूप में भारत के योगदान को पूरे विश्व में सराहना मिलती है।

प्रथम संयुक्त राष्ट्र महासागर सम्मेलन

First UN Ocean Conference

वर्तमान में महासागरीय संसाधनों के अति-विदोहन की नीति ने विश्व में न केवल राजनीतिक संघर्ष को बढ़ावा दिया है, बल्कि महासागरीय पारिस्थितिकी में असंतुलन भी उत्पन्न किया है। तटीय क्षेत्रों में अति-नौवहन से उत्पन्न पारिस्थितिकी असंतुलन ने द्वीपीय देशों के