सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट, 2020

World Happiness Report, 2020
  • पृष्ठभूमि
  • वर्ष 2011 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा भूटान के एक संकल्प को पारित किया गया, जिसमें राष्ट्रीय सरकारों से सामाजिक एवं आर्थिक विकास के मापन एवं इसके लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु अपनी लोकनीतियों में ‘‘प्रसन्नता एवं अच्छे रहन-सहन’’ (Happiness & Well-being) को अधिक महत्व देने का आह्वान किया गया था।
  • उपर्युक्त संकल्प को जमीनी स्तर पर कार्यान्वित करने के लिए  ‘प्रसन्नता तथा अच्छे रहन-सहन पर’ एक संयुक्त राष्ट्र उच्चस्तरीय सम्मेलन का आयोजन 2 अप्रैल, 2012 को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में किया गया था।
  • इस सम्मेलन के समर्थन में वर्ष 2012 में पहली ‘विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट’ (WHR  : World Happiness Report) जारी की गई।
  • विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट (WHR) ‘‘संयुक्त राष्ट्र पोषणीय विकास समाधान नेटवर्क’’ (UNSDSN) का एक प्रकाशन है, जिसमें मुख्यतया गैलप वर्ल्ड पोल (Gallup World Poll) द्वारा प्रदत्त डेटा का उपयोग किया जाता है।
  • गैलप एक अमेरिकी विश्लेषण एवं सलाहकारी कंपनी है।
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 20 मार्च, 2020 को ‘संयुक्त राष्ट्र पोषणीय विकास समाधान नेटवर्क’ (UNSDSN-UN Sustainable Development Solutions Network) द्वारा 8वीं विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट जारी की गई।
  • वर्तमान रिपोर्ट में 153 देशों को उनके नागरिकों की प्रसन्नता के स्तर के अनुसार रैंकिंग प्रदान की गई है।
  • WHR, 2020 में पहली बार विश्व के प्रमुख शहरों को व्यक्तिपरक/आत्मगत (Subjective) रहन-सहन के अनुसार रैंकिंग प्रदान की गई है।
  • WHR, 2020 का मुख्य फोकस ‘सामाजिक, शहरी तथा प्राकृतिक पर्यावरण’ पर रहा।
  • रिपोर्ट के प्रमुख घटक
  • इस रिपोर्ट के अंतर्गत 153 देशों के नागरिकों के प्रसन्नता के स्तर के मापन के लिए वर्ष 2017-2019 की अवधि के ‘राष्ट्रीय औसत जीवन मूल्यांकन’ के विश्लेषण एवं रैंकिंग डेटा का उपयोग किया गया है।
  • विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट प्रसन्नता के जिन 6 घटकों पर आधारित है, वे हैं-

1. प्रति व्यक्ति जीडीपी (Per Capita GDP)

      2. सामाजिक अवलंबन (Social Support)

      3. स्वस्थ जीवन प्रत्याशा (Healthy Life Expectancy)

      4. जीवन में चुनने की स्वतंत्रता (Freedom to make life choices)

      5. उदारता (Generosity)

      6. भ्रष्टाचार बोध (Perception of Corruption)

  • रैंकिंग
  • WHR, 2020 में गत वर्ष की भांति एक बार फिर फिनलैंड सर्वाधिक प्रसन्न देशों की सूची में 7.809 अंकों के साथ प्रथम स्थान पर है।
  • ज्ञातव्य है कि वर्ष 2012 में प्रथम विश्व प्रसन्नता रिपोर्ट के प्रकाशन के बाद से अब तक चार विभिन्न देशों को शीर्ष रैंक हासिल हुई है।
  • वर्ष 2012, 2013 तथा वर्ष 2016 में डेनमार्क, वर्ष 2015 में स्विट्जरलैंड, वर्ष 2017 में नॉर्वे, जबकि वर्ष 2018, 2019 तथा वर्ष 2020 में फिनलैंड को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।

WHR, 2020 की रैंकिंग में शीर्ष 5 देश

देश

स्कोर

2020 रैंक

2019 रैंक

फिनलैंड

7.809

1

1

डेनमार्क

7.646

2

2

स्विट्जरलैंड

7.56

3

6

आइसलैंड

7.504

4

4

नॉर्वे

7.488

5

3

WHR, 2020 की रैंकिंग में अंतिम 5 देश

देश

स्कोर

2020 रैंक

2019 रैंक

अफगानिस्तान

2.567

153

154

द. सूडान

2.817

152

156

जिम्बाब्वे

3.299

151

146

रवांडा

3.312

150

152

मध्य अफ्रीकी गणराज्य

3.476

149

155

  • उल्लेखनीय है कि सद्यः रिपोर्ट के अनुसार, अफगानिस्तान विश्व का सबसे दुःखी देश है।
  • शीर्ष 10 देशों में कोई भी एशियाई देश शामिल नहीं है।
  • भारत की दृष्टि से यह रिपोर्ट निराशाजनक है, क्योंकि रैंकिंग में भारत को 144वें स्थान पर रखा गया है तथा इसका स्कोर 3.573 है।
  • उल्लेखनीय है कि भारत की रैंक में विगत वर्ष की तुलना में (रैंक-140) 4 स्थानों की गिरावट दर्ज की गई है।
  • सार्क देशों की स्थिति

WHR, 2020 में सार्क देशों की स्थिति

देश

रैंक

पाकिस्तान

66

नेपाल

92

बांग्लादेश

107

श्रीलंका

130

भारत

144

अफगानिस्तान

153

मालदीव

87

  • भूटान को इस वर्ष की रिपोर्ट में स्थान नहीं दिया गया है, जबकि मालदीव जिसे गत वर्ष शामिल नहीं किया गया था WHR, 2020 में 87वें स्थान पर है।
  • ब्रिक्स देशों की स्थिति

WHR, 2020 में ब्रिक्स देशों की स्थिति

देश

2020 रैंक

2019 रैंक

ब्राजील

32

32

रूस

73

68

चीन

94

93

द. अफ्रीका

109

106

भारत

144

140

  • उपरोक्त सारणी से स्पष्ट है कि ब्राजील को छोड़कर सभी ब्रिक्स देशों की रैंकिंग में गिरावट दर्ज की गई है।
  • शहरों की रैंकिंग
  • विश्व में शहरीकरण (Urbanisation) की बढ़ती प्रवृत्तियों एवं आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए WHR, 2020 में विश्व के प्रमुख शहरों को उनकी प्रसन्नता के स्तर के आधार पर रैंकिंग प्रदान की गई है।
  • शहर ‘आर्थिक ऊर्जागृह’ कहे जाते हैं, क्योंकि संपूर्ण विश्व का लगभग 80 प्रतिशत GDP शहरों की परिसीमा में ही उत्पादित होता है।
  • विश्व की जनसंख्या के 55.3 प्रतिशत लोग (लगभग 4.2 बिलियन) शहरों में निवास करते हैं।

WHR, 2020 में 10 प्रमुख शहरों की रैंकिंग

रैंक

शहर

स्कोर

देश

1

हेल्सिंकी

7.828

फिनलैंड

2

आरहुस

7.625

डेनमार्क

3

वेलिंगटन

7.553

न्यूजीलैंड

4

ज्यूरिख

7.541

स्विट्जरलैंड

5

कोपेनहेगेन

7.53

डेनमार्क

6

बर्जेन

7.527

नॉर्वे

7

ओस्लो

7.464

नॉर्वे

8

तेल अवीव

7.461

इस्राइल

9

स्टॉकहोम

7.373

स्वीडन

180

दिल्ली

4.011

भारत

  • रिपोर्ट से स्पष्ट है कि भारत के एकमात्र शहर दिल्ली को 186 शहरों की रैंकिंग में 180वां स्थान प्राप्त है, जो कि एक अत्यंत खराब स्थिति का परिचायक है।

सं. अमित त्रिपाठी