सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

वर्ल्ड वाइड एजुकेटिंग फॉर द फ्यूचर इंडेक्स‚ 2019

World Wide Educating for the Future Index
  • वर्तमान परिदृश्य
  • द इकोनॉमिस्ट इंटेलीजेंस यूनिट द्वारा प्रकाशित’ वर्ल्ड वाइड एजुकेटिंग फॉर द फ्यूचर इंडेक्स (WEFFI), 2019 रिपोर्ट में भारत ने 35वां स्थान हासिल किया है।
  • इस वर्ष की रिपोर्ट में भारत ने 53 अंक हासिल किया है‚ जबकि वर्ष 2018 में भारत ने 41.2 अंक के साथ 40वां स्थान हासिल किया था।
  • प्रमुख तथ्य
  • WEFFI रिपोर्ट छात्रों की कौशल आधारित शिक्षा और उनकी क्षमताओं के आधार पर देशों की रैंकिंग करता है। साथ ही यह रिपोर्ट कौशल आधारित शिक्षा को गहन सोच‚ समस्या सुलझाने की क्षमता‚ नेतृत्व‚ सहयोग‚ रचनात्मकता और उद्यमशीलता के साथ-ही-साथ डिजिटल और तकनीकी कौशल के परिपे्रक्ष्य में विश्लेषण करती है।
  • इस रिपोर्ट में फिनलैंड को पहली और स्वीडन को दूसरी रैंक प्राप्त हुई है।
  • विश्व की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल अमेरिका‚ ब्रिटेन‚ फ्रांस और रूस की रैंक में गिरावट आई है जबकि चीन‚ भारत और इंडोनेशिया की रैंक में वृद्धि दर्ज की गई है।
  • इस रैंकिंग में सिर्फ उन 50 देशों को शामिल किया गया है‚ जिन देशों में व्यवस्थित शिक्षा प्रणाली मौजूद है।
  • वर्ल्ड वाइड एजुकेटिंग फॉर द फ्यूचर इंडेक्स (WEFFI)
  • सूचकांक और रिपोर्ट को येडान पुरस्कार फाउंडेशन द्वारा कमीशन किया जाता है।
  • //pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
  • यह तेजी से बदलते परिदृश्य में छात्रों को प्रशिक्षित करने में शिक्षा प्रणालियों की प्रभावशीलता का आकलन करने के लिए विकसित किया गया है।
  • यह रैंकिंग तीन श्रेणियों पर आधारित है-
  • नीति का वातावरण
  • सामाजिक-आर्थिक परिवेश
  • शिक्षण का माहौल
  • भारत का प्रदर्शन
  • भारत ने तीनों श्रेणियों में समग्र रूप से 53 अंक के स्कोर के साथ 35वां स्थान प्राप्त किया है।
  • भारत ने नीति वातावरण श्रेणी में 56.3 अंक हासिल किया‚ जबकि वर्ष 2018 में 61.5 अंक हासिल किया था।
  • शिक्षा का माहौल श्रेणी में वर्ष 2018 में 32.2 अंक की अपेक्षा 52.2 अंक हासिल किया है।
  • सामाजिक-आर्थिक परिवेश श्रेणी में वर्ष 2018 में 33.3 अंक की अपेक्षा 50.1 अंक हासिल किया है।
  • भारत के प्रदर्शन में सुधार का कारण
  • रिपोर्ट में वर्ष 2019 में प्रस्तावित नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का उल्लेख किया गया है‚ जिसमें भविष्य उन्मुख कौशल विकास‚ गहन सोच‚ संचार और उद्यमिता का उल्लेख किया गया है।
  • केंद्रीय बजट‚ 2020-21 में भी शिक्षा नीति पर प्रकाश डाला गया है‚ जिसमें एस्पिरेशनल इंडिया के तहत कौशल आधारित शिक्षा‚ प्रतिभाशाली शिक्षकों को आकर्षित करने‚ बेहतर लैब निर्माण और नवाचार का प्रावधान किया गया है।
  • साथ ही बजट 2020-21 में 150 उच्च शिक्षण संस्थानों द्वारा अप्रेंटिसशिप एम्बेडेड डिग्री या डिप्लोमा पाठ्‌यक्रमों की शुरुआत मार्च‚ 2021 से शुरू करने का प्रावधान किया गया है।
  • कमियां
  • WEFFI की वर्ष 2018 की रिपोर्ट में भारतीय शिक्षा प्रणाली की कमियों को उजागर किया‚ जिसमें भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली के अंतरराष्ट्रीयकरण के अवसर का उपयोग न कर पाने की असमर्थता मुख्य है।
  • वर्ष 2019 की रिपोर्ट के अनुसार‚ भारत की विकेंद्रीकृत शिक्षा प्रणाली भारतीय शिक्षा नीति की प्रमुख कमी है। क्योंकि कभी-कभी उच्च स्तर पर बनी बेहतरीन शिक्षा प्रणाली विकेंद्रीकृत प्रणाली के कारण निचले स्तर तक नहीं पहुंच पाती है। संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत की विकेंद्रीकृत शिक्षा प्रणाली इसका उदाहरण है।

रैंकिंग में शीर्ष देश

रैंकिंग में निचले देश

1

फिनलैंड

46

सऊदी अरब

2

स्वीडन

47

बांग्लादेश

3

न्यूजीलैंड

48

केन्या

4

सिंगापुर

49

नाइजीरिया

5

नीदरलैंड्‌स

50

कांगो लोतांत्रिक गणराज्य (DRC)

ब्रिक्स देशों में भारत का स्थान

दक्षिण अफ्रीका

27

रूस

33

चीन

34

भारत

35

ब्राजील

37

पड़ोसी देशों में भारत का स्थान

चीन

34

भारत

35

म्यांमार

43

पाकिस्तान

45

बांग्लादेश

47

सं.  ऋषभ कुमार मिश्रा