सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम

National Animal Disease Control Program
  • वर्तमान परिपे्रक्ष्य
  • 11 सितंबर‚ 2019 को मथुरा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम’ (National Animal Disease Control Programme) का शुभारंभ किया।
  • उद्देश्य
  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य देश में पशुधन (Livestock) को प्रभावित करने वाले ‘फुट एंड माउथ रोग’ (Foot & Mouth Disease: खुरपका एवं मुंहपका रोग) तथा ब्रूसीलोसिस (Brucellosis) का नियंत्रण एवं उनका उन्मूलन करना है।
  • यह कार्यक्रम पशुओं में टीकाकरण के माध्यम से वर्ष 2025 तक फुट एंड माउथ रोग एवं ब्रूसीलोसिस को नियंत्रित करने और अंतत: वर्ष 2030 तक उनका उन्मूलन (Eradication) करने हेतु लक्षित है।
  • वित्तपोषण
  • यह 100 प्रतिशत केंद्र सरकार द्वारा वित्तपोषित कार्यक्रम है‚ जिसका वर्ष 2019 से वर्ष 2024 तक कुल परिव्यय (Total outlay) 12,652 करोड़ रुपये निर्धारित है।
  • फुट एंड माउथ रोग
  • ज्ञातव्य है कि फुट एंड माउथ रोग विभाजित खुर (Cloven-hoofed) वाले पशुओं जैसे गाय‚ भैंस‚ भेड़‚ बकरी‚ तथा सुअर आदि में होने वाला अत्यधिक संक्रामक विषाणुजनित रोग है।
  • पिकोरनाविरीदी (Picornaviridae) परिवार का एप्थोवायरस (Apthovirus) नामक विषाणु इस रोग का कारक होता है।
  • इस रोग के कारण दुधारू पशुओं की दुग्धउत्पादन क्षमता में तेजी से कमी आती है।
  • ब्रूसीलोसिस
  • ब्रूसीलोसिस एक संक्रामक रोग है‚ जो ब्रूसेला (Brucella) नामक जीवाणु (Bacteria) के कारण होता है।
  • इसे भूमध्यसागरीय ज्वर (Mediterranean Fever) या ‘माल्टा ज्वर’ (Malta Fever) के नाम से भी जाना जाता है।
  • प्राय: मवेशी भेड़‚ बकरी‚ सुअर‚ घोड़े तथा कुत्ते इस रोग से प्रभावित होते हैं।
  • इस रोग के कारण प्राय: पशुओं में प्रजनन संबंधी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं।
  • 11 सितंबर‚ 2019 को ही प्रधानमंत्री ने मथुरा में ‘राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम’ (National Artificial Insemination Programme) की भी शुरुआत की।

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.