सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

भारत एयर फाइबर

Bharat Airfibre
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 2 अगस्त‚ 2020 को केंद्रीय राज्य मंत्री संजय धोत्रे ने महाराष्ट्र के अकोला (Akola) और वाशिम (Washim) जिले में भारत एयर फाइबर (Bharat AirFiber) सेवाओं का उद्घाटन किया।
  • उद्देश्य
  • डिजिटल इंडिया (Digital India) पहलों के एक हिस्से के रूप में ग्रामीण क्षेत्रों में वायरलेस कनेक्टिविटी (Wireless Connectivity) की सुविधा उपलब्ध कराना है।
  • महत्वपूर्ण तथ्य
  • भारत एयर फाइबर नेटवर्क पारंपरिक फाइबर केबल कनेक्शन (Fiber Cable Connection) से भिन्न है।
  • यह रेडियो तरंगों (Radio waves) का उपयोग कर वायरलेस (Wireless) तरीके से उच्च गति इंटरनेट सेवा और वॉइस कॉलिंग (Voice Calling) की सुविधा प्रदान करता है।
  • इसमें वायरलेस के लिए 5 किमी. के दायरे में 10 Mbps तक और ब्रॉडबैंड के लिए 20 किमी. के दायरे में 256 Kbps से 100 Mbps स्पीड तक की कनेक्टिविटी उपलब्ध है।
  • भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) द्वारा टेलीफोन एक्सचेंज (Telephone Exchange) या मोबाइल टॉवर (Mobile Tower) तक ऑप्टिकल फाइबर का एक विशाल नेटवर्क बिछाया गया है और वहां से वायरलेस तरीके से ग्राहकों को कनेक्टिविटी प्रदान की जाती है।
  • जनवरी‚ 2020 में भारत संचार निगम लिमिटेड द्वारा भारत के ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में इंटरनेट कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इसकी शुरुआत की गई थी।
  • अब तक भारत एयर फाइबर को तेलंगाना‚ बिहार‚ तमिलनाडु‚ कर्नाटक‚ हरियाणा और महाराष्ट्र आदि राज्यों में लांच किया जा चुका है।
  • महत्व
  • कोविड-19 महामारी के कारण शहरों से ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों का पलायन बढ़ा है‚ जिससे ग्रामीण इलाकों में तीव्र गति की इंटरनेट कनेक्टिविटी की मांग में वृद्धि हुई है।
  • ई-शिक्षा‚ ऑनलाइन खरीददारी‚ वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) आदि को भारत एयर फाइबर के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में भी पूरा किया जा सकता है।
  • यह सेवा स्थानीय व्यावसायिक साझीदारों के जरिए प्रदान की जा रही है‚ जिससे ग्रामीण स्तर पर रोजगार का सृजन हो रहा है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में युवा इंटरनेट से जुड़कर आय भी अर्जित कर सकेंगे। अत: यह पहल आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण से भी महत्वपूर्ण है।
  • यह ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT)‚ आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) आदि सुविधाओं के विस्तार में भी सहायक होगा।

सं. विजय सिंह