सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

बाल्यावस्था न्यूमोनिया : प्रथम विश्व मंच

Childhood Pneumonia: The First World Forum
  • पृष्ठभूमि
  • न्यूमोनिया फेफड़े में सूजन की एक स्थिति है‚ जो प्राथमिक रूप से अति सूक्ष्म (Microscopic) वायुकूपों (Alveoli) को प्रभावित करता है।
  • न्यूमोनिया को फुफ्फुस शोथ या फुफ्फुस प्रदाह के नाम से भी जाना जाता है।
  • न्यूमोनिया एक संक्रामक रोग है‚ जो बच्चों की मृत्यु का प्रमुख कारण है।
  • न्यूमोनिया विषाणु‚ जीवाणु या कवक से हो सकता है।
  • संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की रिपोर्ट के अनुसार‚ न्यूमोनिया के कारण हुई मृत्यु एवं गरीबी के बीच एक मजबूत संबंध है। पेयजल की पहुंच न होना‚ पर्याप्त स्वास्थ्य देखभाल का अभाव‚ पोषण तथा घरेलू वायु प्रदूषण के कारण भी बच्चे इस बीमारी की चपेट में आ जाते हैं।
  • गत वर्ष आठ लाख बच्चों की मृत्यु
  • संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की रिपोर्ट के अनुसार‚ गत वर्ष वैश्विक स्तर पर निमोनिया के कारण 5 वर्ष से कम उम्र के 8 लाख से अधिक बच्चों की मौत हुई। इस प्रकार प्रत्येक 39 सेकंड में एक बच्चे की मौत हुई है।
  • न्यूमोनिया के कारण हुई मृत्यु का संबंध अशिक्षा एवं गरीबी से है।
  • संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार‚ न्यूमोनिया के कारण हुई मृत्यु के दृष्टिगत वैश्विक संक्रामक रोग शोध खर्च में से महज 3 प्रतिशत ही इस पर खर्च किया जाता है।

वर्ष 2018 में न्यूमोनिया के कारण हुई मृत्यु में पांच शीर्ष देश

क्रम सं देश मृत्यु
  1. नाइजीरिया 1,62,000
  2. भारत 1,27,000
  3. पाकिस्तान 58,000
  4. कांगो 40,000
  5. इथियोपिया 32,000
  • 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में मौत के कुल मामलों में 15 प्रतिशत मौत न्यूमोनिया के कारण होती है।
  • न्यूमोनिया के कारण मरने वाले बच्चों में अधिकतर की उम्र 2 वर्ष से कम थी और 1.53 लाख बच्चों की मौत जन्म के पहले महीने में हुई।
  • प्रथम वैश्विक मंच : जनवरी‚ 2020
  • बाल्यावस्था न्यूमोनिया पर विश्व का पहला सम्मेलन 29-31 जनवरी‚ 2020 के मध्य स्पेन के बार्सिलोना (कास्मोइक्सा) में संपन्न हुआ।
  • बाल्यावस्था न्यूमोनिया पर वैश्विक फोरम को यह सुनिश्चित करना है कि न्यूमोनिया राष्ट्रीय और वैश्विक स्वास्थ्य एजेंडा में सबसे आगे है।
  • यह एक प्रमुख अवसर है‚ जिसमें न्यूमोनिया की चुनौती के दृष्टिगत जागरूकता बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय कार्रवाई को बढ़ावा देना तथा दाता समुदाय को जुटाना है।
  • बाल्यावस्था न्यूमोनिया पर वैश्विक मंच‚ 9 प्रमुख स्वास्थ्य एवं बच्चों के संगठन की एक पहल है‚ जिसमें IS Global, Save the Children, UNICEF, Every Breath Counts, Bill & Millinda Gates Foundation, La Caxa Foundation, USIAD, Unitaid और Gavi शामिल हैं।
  • वैश्विक मंच का मुख्य लक्ष्य है कि विश्व की सरकारें बच्चे के अस्तित्व हेतु सतत विकास लक्ष्य को पूरा करने के लिए निर्णय ले सकते हैं। सतत विकास लक्ष्य के तहत वर्ष 2030 तक न्यूमोनिया एवं डायरिया के लिए ग्लोबल एक्शन प्लान प्रति 1000 जीवित जन्मों में तीन बच्चों के न्यूमोनिया से मृत्यु का लक्ष्य है।
  • सम्मेलन का विषय : ‘सांस के लिए लड़ाई’है।
  • फोरम में 23 देशों के स्वास्थ्य मंत्रियों और सरकारी प्रतिनिधियों ने भाग लिया साथ ही दुनिया के कई बाल प्रमुख चिकित्सा सलाहकार और महामारी विज्ञान के शोधकर्ता भी शामिल हुए।
  • फोरम के दौरान यह तथ्य प्रकाश में आया कि कम वैक्सीन कवरेज‚ सही निदान और समय पर उपचार की सीमित पहुंच के कारण सबसे गरीब बच्चों को अधिक खतरा होता है।
  • बाल्यावस्था न्यूमोनिया से होने वाली लगभग सभी मौतों को टीकाकरण‚ पर्याप्त पोषण‚ वायु प्रदूषण जैसे जोखिम कारकों को कम करने के माध्यम से रोका जा सकता है।
  • विशेष
  • बैक्टीरिया के कारण होने वाले न्यूमोनिया को टीके से आसानी से रोका जा सकता है। इसे रोकने के लिए प्राथमिक वैक्सीन न्यूमोकाकल कंजुगेट वैक्सीन (PCV : Pneumococal Conjugate Vaccine) की तीन खुराक की सिफारिश की जाती है।
  • न्यूमोनिया के मुख्य वायरल कारणों में से एक के लिए नया टीका विकास के अधीन है।
  • भारत यूनिवर्सल इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम के तहत पीसीवी के राष्ट्रव्यापी रोल आउट की योजना बना रहा है।

संचौरसिया आर. करन