सम-सामयिक घटना चक्र | Railway Solved Paper Books | SSC Constable Solved Paper Books | Civil Services Solved Paper Books
Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

एनआईआरएफ : इंडिया रैंकिंग, 2020

NIRF: India Ranking, 2020
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 11 जून, 2020 को मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने ‘नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क’ के अंतर्गत देश में उच्च शिक्षण संस्थानों की इंडिया रैंकिंग, 2020 जारी की।
  • एनआईआरएफ (National Institutional Ranking Framework : NIRF) इंडिया रैंकिंग का मुख्य उद्देश्य शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता को बेहतर करना, बेहतर प्रदर्शन के लिए शिक्षा में प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना तथा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में नए मानक स्थापित करना है।
  • इंडिया रैंकिंग, 2020
  • यह एनआईआरएफ इंडिया रैंकिंग का पांचवां संस्करण है।
  • इसमें समग्र (Overall) श्रेणी के तहत संस्थानों की रैंकिंग जारी की गई है।
  • साथ ही विभिन्न विषयों (Disciplines) जैसे इंजीनियरिंग, प्रबंधन (Management), फॉर्मेसी, विधि (Law), चिकित्सा (Medical), वास्तुकला (Architecture) तथा दंत चिकित्सा (Dental) में भी संस्थानों को रैंक प्रदान की गई है।
  • देश के विश्वविद्यालयों और कॉलेजों की भी अलग से रैंकिंग जारी की गई है।
  • इस सर्वेक्षण में देशभर के सरकारी और गैर-सरकारी उच्च शिक्षण संस्थाओं को शामिल किया गया है।
  • उच्च शिक्षा संस्थानों की समग्र (Overall) सूची में शीर्ष 10 स्थान प्राप्त करने वाले संस्थान निम्नलिखित हैं-
रैंकसंस्थानशहरस्कोर
1आई.आई.टी. मद्रासचेन्नई85.31
2भारतीय विज्ञान संस्थानबंगलुरू84.18
3आई.आई.टी., दिल्लीनई दिल्ली81.33
4आई.आई.टी., बॉम्बेमुंबई80.75
5आई.आई.टी., खड़गपुरखड़गपुर75.85
6आई.आई.टी., कानपुरकानपुर74.99
7आई.आई.टी., गुवाहाटीगुवाहाटी68.81
8जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालयनई दिल्ली68.76
9आई.आई.टी., रुड़कीरुड़की68.48
10बनारस हिंदू विश्वविद्यालयवाराणसी62.03
  • महत्वपूर्ण तथ्य
  • रैंकिंग फ्रेमवर्क के तहत संस्थानों का मूल्यांकन मानदंडों (Parameters) के निम्नलिखित पांच विस्तृत समूहों के आधार पर किया गया है –

(i)  शिक्षण, अधिगम एवं संसाधन (Teaching, Learning & Resources)

(ii) अनुसंधान एवं पेशेवर अभ्यास (Research & Professional Practice)

(iii) स्नातक परिणाम (Graduation Outcomes)

(iv)पहुंच एवं समावेशिता (Outreach & Inclusivity)

(v) बोध (Perception)

  • उपर्युक्त पांच मानदंडों में प्रत्येक में प्राप्त अंकों के कुल जोड़ के आधार पर संस्थानों को रैंक प्रदान की गई है।
  • एनआईआरएफ की इस रैंकिंग के शीर्ष 10 में उत्तर प्रदेश के दो संस्थानों आई.आई.टी., कानपुर और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय को स्थान मिला है।
  • विश्वविद्यालय श्रेणी में भारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलुरू को प्रथम, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली को द्वितीय एवं बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
  • इंजीनियरिंग श्रेणी में प्रथम एवं द्वितीय स्थान क्रमशः आई.आई.टी., मद्रास एवं आई.आई.टी., दिल्ली को प्राप्त हुआ है।
  • दिल्ली में स्थित मिरांडा हाउस को कॉलेज श्रेणी के तहत शीर्ष स्थान प्राप्त हुआ है।
  • प्रबंधन श्रेणी में आई.आई.एम., अहमदाबाद को प्रथम और आई.आई.एम., बंगलुरू को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
  • वास्तुकला (Architecture) श्रेणी में शीर्ष तीन संस्थान क्रमशः आई.आई.टी. खड़गपुर, आई.आई.टी. रुड़की तथा एन.आई.टी. कालीकट (केरल) हैं।
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली  को चिकित्सा श्रेणी में शीर्ष स्थान प्राप्त हुआ है।
  • फॉर्मेसी श्रेणी में प्रथम स्थान जामिया हमदर्द (नई दिल्ली) को तथा पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ को द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ है।
  • नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी, बंगलुरू को विधि (कानून) श्रेणी के तहत प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।
  • दंत चिकित्सा की श्रेणी में मौलाना आजाद इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज, दिल्ली को प्रथम स्थान तथा मणिपाल कॉलेज ऑफ डेंटल साइंसेज, उडुपी (कर्नाटक) को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
  • यह प्रथम अवसर है, जब इंडिया रैंकिंग्स में दंत चिकित्सा संस्थानों को शामिल किया गया है।
  • एनआईआरएफ
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग फ्रेमवर्क की शुरुआत 29 सितंबर, 2015 को की गई थी।
  • एनआईआरएफ देशभर में उच्च शिक्षा संस्थानों को रैंकिंग प्रदान करने के लिए एक कार्यप्रणाली की रूपरेखा तैयार करता है।
  • संस्थानों को पांच मानकों यथा-शिक्षण अधिगम और संसाधन, अनुसंधान और व्यावसायिक अभ्यास, स्नातक परिणाम, आउटरीच और समावेशिता (Outreach and Inclusivity) तथा अनुभव (Perception) के आधार पर रैंकिंग प्रदान की जाती है।
  • ध्यातव्य है कि इंडिया रैंकिंग का प्रथम संस्करण अप्रैल, 2016 में जारी हुआ था।

सं. अमित शुक्ला