Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

UPSSSC जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल हल प्रश्न पत्र,भूल सुधार

  • पेज सं. 251 पर प्रश्न संख्या 109 में उत्तर (c) के स्थान पर उत्तर (d) पढ़ा जाए तथा व्याख्या निम्न प्रकार पड़ा जाए। व्याख्या- प्रेरण मोटर का बलाघूर्ण और स्लिप आपस में समानुपाती (Proportion) होते हैं ।
  • पेज सं. 252 पर Que. No. 111 में विकल्प (c) में Low input voltage के स्थान पर Input voltage decreses  तथा विकल्प (d) में High input voltage के स्थान पर Input voltage increses पढ़ा जाए।
  • पेज सं. 248 पर प्रश्न संख्या 99 में उत्तर (a) के स्थान पर उत्तर (b) पढ़ा जाए तथा व्याख्या निम्न प्रकार पढ़ा जाए।

व्याख्या- चित्रानुसार दिया गया वक्र ए.सी. शृंखला मोटर (A.C. Series Motor) का है।

  • पेज सं. 240 पर प्रश्न संख्या 74 के व्याख्या में जल टरबाइन में ‘‘इसमें पोल रोटर प्रयोग किया जाता है’’ के स्थान पर ‘‘इसमें सैलिएंट पोल रोटर प्रयोग किया जाता है’’ पढ़ा जाए तथा Silent type motor के स्थान पर ‘‘Salient type motor’’ पढ़ा जाए।
  • पेज सं. 224 के प्रश्न संख्या 20 के विकल्प (c) में 250kv के स्थान पर 250V पढ़ा जाए तथा व्याख्या में भी ‘‘ए.सी. एकल-कला प्रेरण मोटर की वोल्टेज सीमा 250kv तक होती है’’ के स्थान पर ए.सी. एकल-कला प्रेरण मोटर सीमा 250V पढ़ा जाए।
  • पेज सं. 238 के प्रश्न संख्या 68 के ज्ञान बिंदु में W2=VI Cos (30-f) के स्थान पर W2=VI Cos (30+f)  पढ़ा जाए।
  • पेज सं. 237 के प्रश्न संख्या 64 के ज्ञान बिंदु में “Auto transformer starter का प्रयोग 15HP की मोटरों के लिए किया जाता है” के स्थान पर “Auto transformer starter का प्रयोग 15HP से ऊपर की मोटरों के लिए किया जाता है” पढ़ा जाए।