Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

वैश्विक शांति सूचकांक, 2019

Global Peace Index, 2019
  • पृष्ठभूमि
  • विश्व में शांति की स्थापना करने के उद्देश्य से ऑस्ट्रेलिया के तकनीकी उद्यमी और समाजसेवी स्टीव किल्लेलिया (Steave Kileliya) ने Institute for Economics and Peace-IEP की स्थापना वर्ष 2007 में किया। यह संस्था प्रतिवर्ष गुणात्मक और मात्रात्मक संकेतकों के आधार पर वैश्विक शांति सूचकांक जारी करता है। इसी क्रम में इस संस्था ने वर्ष 2019 की सूची प्रकाशित किया है, जिसमें भारत को 141वां स्थान प्राप्त हुआ है।
  • वर्तमान परिदृश्य
  • जून, 2019 में Institute for Economics and Peace-IEP द्वारा वैश्विक शांति सूचकांक, 2019 प्रकाशित किया है।
  • इस सूचकांक में शामिल किए गए 163 देशों को शांति बनाए रखने के आधार पर रैंक निर्धारित किया गया है।
  • सूचकांक में वर्ष 2008 से लगातार सर्वाधिक शांत देशों की सूची में प्रथम स्थान बनाने वाले देश आइसलैंड (Iceland) को वर्ष 2019 में भी प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।
  • जबकि सीरिया को पीछे छोड़ने वाले अफगानिस्तान को सर्वाधिक अशांत देश घोषित किया गया है।
  • सूचकांक के प्रमुख तथ्य
  • गौरतलब है कि इस सूचकांक में विश्व की कुल जनसंख्या का लगभग 99.7 प्रतिशत भाग को शामिल किया गया है।
  • इस सूची में शीर्ष पांच देशों में क्रमशः आइसलैंड, न्यूजीलैंड, पुर्तगाल, ऑस्ट्रिया तथा डेनमार्क को स्थान प्राप्त है।
  • इसके साथ ही सूचकांक के निचले पायदान से क्रमशः अफगानिस्तान, सीरिया, दक्षिण सूडान, यमन तथा इराक का स्थान है।
  • ज्ञातव्य है कि इस सूची में यमन शीर्ष पांच अशांत देशों की सूची में प्रथम बार शामिल हुआ है।
  • इस सूचकांक को 23 गुणात्मक और मात्रात्मक संकेतकों का प्रयोग कर सटीक निर्णय द्वारा तैयार किया जाता है।
  • IEP द्वारा वैश्विक शांति सूचकांक मापने के तीन स्तर हैं-

   (i) घरेलू और अंतरराष्ट्रीय संघर्ष (Domestic and International Conflict)

   (ii) सामाजिक सुरक्षा (Social Safty and Security)

   (iii) सैन्यीकरण (Militarisation)

  • वैश्विक शांति सूचकांक में शामिल 9 क्षेत्रों में से 4 क्षेत्रों ने वैश्विक शांति की दिशा में सुधार किए हैं, जो इस प्रकार हैं-

      (i) रूस और यूरेशिया (Russia and Eurasia)

   (ii) एशिया प्रशांत (Asia – Pacific)

   (iii) यूरोप (Europe)

   (iv) मध्य-पूर्व और उत्तरी अफ्रीका (Middle East and North Africa-MENA)

  • सूचकांक में भारत
  • विश्व शांति सूचकांक, 2019 में भारत को 163 देशों की सूची में 141वां स्थान प्राप्त हुआ है।
  • यह स्थान पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष चार प्वाइंट और पांच स्थान (Rank) के नुकसान होने के कारण प्राप्त हुआ है।
  • गौरतलब है कि वर्ष 2018 में भारत को इस सूची में 136वां स्थान प्राप्त हुआ था।
  • इस सूचकांक में 15वां स्थान पाने वाला देश भूटान, दक्षिण एशिया का सबसे शांतिपूर्ण देश बन गया है।
  • इसके अलावा इस सूचकांक में श्रीलंका 72वें, नेपाल 76वें, बांग्लादेश 101वें तथा पाकिस्तान 153वें स्थान पर हैं।
  • निष्कर्ष
  • IEP एक स्वतंत्र तथा गैर-लाभकारी थिंक टैक के रूप में कार्य करने वाली संस्था है, जिसका मुख्य ध्येय वैश्विक शांति की स्थापना में सहयोग करना है। इसके द्वारा प्रकाशित सूची में शामिल देशों को वास्तविक स्थिति से अवगत करा कर उन्हें सहज, सरल एवं शांत जीवन प्रदान करना है।