Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

रायसीना संवाद, 2019

Raisina Dialogue, 2019
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 8 – 10 जनवरी, 2019 के मध्य नई दिल्ली में रायसीना संवाद (Raisina Dialogue) के चौथे संस्करण का आयोजन किया गया।
  • उल्लेखनीय है कि इस कार्यक्रम का आयोजन ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन (Observer Research Foundation) द्वारा भारत सरकार के विदेश मंत्रालय के सहयोग से किया गया।
  • इस संस्करण का विषय ‘ए वर्ल्ड रिऑर्डर : न्यू जियोमेट्रीज, फ्लूइड पार्टनरशिप, अनसर्टेन आउटकम’ (A World Reorder  :  New  Geometries, Fluid Partnership, Uncertain Outcomes) था।
  • रायसीना संवाद
  • रायसीना संवाद भारत का प्रमुख वार्षिक भू-राजनीतिक और भू-आर्थिकी सम्मेलन है।
  • यह एक बहुपक्षीय सिविल सोसाइटी है। इस सम्मेलन को आयोजित करने का उद्देश्य वैश्विक समुदाय के समक्ष उपस्थित चुनौतियों पर विचारों का आदान-प्रदान करना है।
  • इस संवाद में प्रत्येक वर्ष मीडिया, सिविल सोसायटी और व्यापार जगत के वैश्विक और घरेलू नेताओं को व्यापक अंतरराष्ट्रीय नीतिगत मामलों पर चर्चा हेतु आमंत्रित किया जाता है।
  • ज्ञातव्य है कि रायसीना संवाद के पहले तीन संस्करण सफलतापूर्वक क्रमशः वर्ष 2016, 2017 और 2018 में आयोजित हो चुके हैं।
  • वर्तमान संस्करण
  • 8 जनवरी, 2019 को चौथे संस्करण का उद्घाटन भाषण नॉर्वे की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग (Erna Solberg) ने दिया।
  • इस अवसर पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी उपस्थित थीं।
  • इस वर्ष 92 देशों के 600 से अधिक प्रतिनिधियों ने रायसीना संवाद में प्रतिभाग किया।
  • सम्मेलन में शामिल होने वाली प्रमुख वैश्विक हस्तियों में अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई, पूर्व ब्रिटिश प्रधानमंत्री टोनी ब्लेयर, इटली के पूर्व प्रधानमंत्री पाउलो जेंटीलोनी, कनाडा के पूर्व प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर, पूर्व स्वीडिश प्रधानमंत्री कार्ल बिल्ट (Carl Bildt) आदि शामिल थे।
  • ध्यातव्य है कि ‘रायसीना’ नाम, रायसीना पहाड़ी से संबंधित है, जो नई दिल्ली में अरावली पर्वत का अंतिम विस्तारित रूप है।
  • अन्य महत्वपूर्ण तथ्य
  • रायसीना पहाड़ी पर भारतीय राष्ट्रपति का आधिकारिक आवास ‘राष्ट्रपति भवन’ और कार्यालय दोनों स्थित हैं।
  • राष्ट्रपति भवन के अतिरिक्त रायसीना पहाड़ी पर संसद भवन, इंडिया गेट, विजय चौक और राजपथ स्थित हैं।
  • विदेश मंत्रालय के सहयोग से आयोजित होने वाला रायसीना संवाद, सिंगापुर के शांगरी-ला संवाद से प्रेरित वार्ता सम्मेलन है।