Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

मित्र शक्ति, 2018-19

Mitra Shakti, 2018-19
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 26 मार्च से 8 अप्रैल, 2019 के मध्य भारत और श्रीलंका की थल सेनाओं के मध्य संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास (मित्र शक्ति, 2018-19) संपन्न।
  • उद्देश्य
  • इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं के मध्य सैन्य कूटनीति और संपर्क के अंगों को बढ़ावा देना तथा कमान के तहत दोनों देशों के सैन्य दस्तों की संयुक्त अभ्यास कमांडर योग्यता को बढ़ाना है।
  • पृष्ठभूमि
  • ‘मित्र शक्ति’ सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास वर्ष 2012 में प्रारंभ हुआ था।
  • ध्यातव्य है कि वर्ष 2017 में ‘मित्र शक्ति’ का चौथा संस्करण औंध  पुणे में आयोजित किया गया था।
  • यह अभ्यास भारत और श्रीलंका में बारी-बारी से आयोजित किया जाता है।
  • अभ्यास का विवरण
  • 14 दिवसीय यह द्विपक्षीय सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास भारत एवं श्रीलंका के संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘मित्र शक्ति’ का छठां संस्करण था।
  • संयुक्त प्रशिक्षण सैन्य अभ्यास का आरंभ 27 मार्च, 2019 को दियातलावा परेड ग्राउंड, श्रीलंका में हुआ।
  • इस सैन्य अभ्यास में भारतीय सेना की ओर से बिहार रेजीमेंट की पहली बटालियन तथा श्रीलंकाई सेना की जेमूनु वॉच बटालियन ने भाग लिया।
  • श्रीलंका की सेना की 21वीं डिविजन के जनरल कमांडिंग ऑफिसर ब्रिगेडियर एचपीएनके जयपतिराणा उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि थे।
  • यह अभ्यास आतंकरोधी परिचालनों और दोनों सेनाओं के मध्य परिचालन समन्वय बढ़ाने पर केंद्रित था।
  • निष्कर्ष
  • यह युद्धाभ्यास दोनों देशों की सेनाओं के मध्य मैत्रीपूर्ण संबंधों को बढ़ाने में सफल साबित हुआ। यह भारत और श्रीलंका के मध्य बढ़ते सैन्य संबंधों का एक प्रमाण है। इस युद्धाभ्यास से दोनों देशों की सेनाओं को परस्पर विश्वास और सहयोग को बढ़ाने और उसे मजबूत करने का एक अवसर प्राप्त हुआ।

सं.  अर्पित मिश्रा