Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

भारत का विदेशी ऋण दिसंबर-अंत, 2018

Ministry of Finance, Government of India
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • वित्त मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 29 मार्च, 2019 को भारत के विदेशी ऋण/बाह्य ऋण (External Debt) के तिमाही आंकड़े (दिसंबर- अंत, 2018 के) जारी किए गए। इन आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर-अंत, 2018 में भारत का विदेशी ऋण 521.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर रहा। अगर मार्चांत, 2018 के बाह्य ऋण से इसकी तुलना की जाए तो उसकी तुलना में यह 1.6 प्रतिशत की गिरावट प्रदर्शित कर रहा है जिसका मुख्य कारण वाणिज्यिक उधारों (Commercial Borrowing) तथा व्यापार ऋण (Trade Credit) में कमी है। हालांकि सितंबर-अंत, 2018 के बाह्य ऋण की तुलना में 2.1 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
  • विदेशी ऋण की स्थिति
  • दिसंबर-अंत, 2018 में भारत का विदेशी ऋण 521.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर रहा। यह मार्चांत, 2018 की तुलना में 8.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर (1.6%) की कमी तथा सितंबर-अंत, 2018 की तुलना में 10.8 बिलियन अमेरिकी डॉलर (2.1%) की वृद्धि प्रदर्शित कर रहा है।
  • भारत के बाह्य ऋण का सबसे बड़ा घटक वाणिज्यिक उधार है, जिसकी बाह्य ऋण में कुल हिस्सेदारी 37.4 प्रतिशत है। तत्पश्चात भारतीय अनिवासियों की जमाएं (24.1%) तथा अल्पावधिक व्यापार ऋण (19.9%) की हिस्सेदारी है
  • दिसंबर-अंत, 2018 में दीर्घावधिक ऋण (एक वर्ष से ऊपर की मूल परिपक्वता के साथ) 417.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर रहा, जो मार्चांत, 2018 की तुलना में 10.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर कम है
  • कुल विदेशी ऋण (External Debt) में दीर्घावधिक ऋण (मूल परिपक्वता) की हिस्सेदारी दिसंबर-अंत, 2018 में 80.1 प्रतिशत रही, जो मार्चांत, 2018 के 80.7 प्रतिशत की तुलना में थोड़ा ही कम है।
  • कुल बाह्य ऋण में अल्पावधिक ऋण (एक वर्ष की मूल परिपक्वता के साथ) की हिस्सेदारी मार्चांत, 2018 के 19.3 प्रतिशत से बढ़कर दिसंबर-अंत, 2018 में 19.9 प्रतिशत हो गई।
  • दिसंबर-अंत, 2018 में भारत के बाह्य ऋण में सबसे अधिक (45.9%) ऋण अमेरिकी डॉलर में लिए गए हैं। तत्पश्चात भारतीय रुपये (24.8%), एस.डी.आर. (5.1%), जापानी येन (4.9%) तथा यूरो (3.4%) में लिए गए ऋणों का स्थान है।

भारत के विदेशी ऋण की संरचना

 

 

(बिलियन डॉलर         

में)          

प्रतिशत परिवर्तन

 

घटक

माचर्, 2018 अंशतः संशोधित

सितंबर, 2018 (अनंतिम)

दिसंबर, 2018 (अनंतिम)

मार्च-दिसंबर, 2018 तक में

सितंबर-दिसंबर,  2018 तक में

कुल ऋण में हिस्सेदारी % में

1.  बहुपक्षीय ऋण

57.3

56.5

57.1

-0.3

1.1

10.96

2.  द्विपक्षीय ऋण

25.3

23.3

24.7

-2.4

6.0

4.74

3.  अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष  (IMF)

5.8

5.6

5.5

-5.2

-1.8

1.06

4.  व्यापार ऋण (Trade Credit)

9.5

8.4

8.1

-14.7

-3.6

1.55

5.  वाणिज्यिक उधार

202.3

189.3

195.0

-3.6

3.0

37.41

6.  एनआरआई जमा राशियां

126.2

121.9

125.8

-0.3

3.2

24.14

7.  रुपया ऋण

1.2

1.1

1.0

-16.7

-9.1

0.19

A. दीर्घावधिक ऋण @       (मूल परिपक्वता

427.5

406.1

417.3

-2.4

2.8

80.07

B.   अल्पावधिक ऋण #      (मूल परिपक्वता)

102.0

104.3

103.9

1.7

-0.4

19.93

कुल ऋण

529.7

510.4

521.2

-1.6

2.1

100.00

@: (एक वर्ष से ऊपर की मूल परिपक्वता के साथ ऋण)

#: (एक वर्ष तक की मूल परिपक्वता के साथ ऋण)

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.