Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

भारतीय निवेशकों के लिए सबसे पसंदीदा स्थल : लंदन

The most preferred destination for Indian investors: London
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 3 मई, 2019 को लंदन के मेयर की प्रचार एजेंसी ‘लंदन एंड पार्टनर्स’ (London & Partners) द्वारा जारी नए विश्लेषण के अनुसार, वर्ष 2018 में भारतीय प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) को आकर्षित करने के मामले में ब्रिटेन शीर्ष पर रहा।
  • भारतीय निवेशकों के लिए ब्रिटेन की राजधानी लंदन सबसे पसंदीदा निवेश स्थल बनकर उभरा है।
  • वर्ष 2018 में लंदन में भारतीय कंपनियों का निवेश रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया।
  • विश्लेषण : मुख्य बिंदु
  • वर्ष 2018 में ब्रिटेन को सर्वाधिक 52 भारतीय एफडीआई मिले। इसके बाद 51 परियोजनाओं के साथ अमेरिका और 32 परियोजनाओं के साथ संयुक्त अरब अमीरात (UAE) का स्थान है।
  • विश्लेषण के अनुसार, वर्ष 2018 में लंदन में निवेश के लिए भारतीय कंपनियों ने 32 परियोजनाओं की पेशकश की है, जिससे शहर में भारतीय निवेश सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया है।
  • विश्लेषण के अनुसार, लंदन में भारतीय एफडीआई वर्ष 2017 की तुलना में वर्ष 2018 में 255 प्रतिशत बढ़ी है।
  • ब्रिटेन में भारतीय निवेश वर्ष 2017 की तुलना में वर्ष 2018 में 100 प्रतिशत से अधिक बढ़ा है।
  • वर्ष 2018 में ब्रिटेन में आए कुल भारतीय निवेश में लंदन की 60 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी रही है।
  • नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, पिछले 10 वर्षों में भारतीय कंपनियों ने पूंजीगत व्यय में 2.49 बिलियन पाउंड जोड़े हैं और लंदन की अर्थव्यवस्था के लिए 5691 से अधिक नए रोजगार सृजित किए हैं।
  • भारत की सबसे तेजी से बढ़ती कुछ कंपनियों ने वर्ष 2018 में ब्रिटिश राजधानी में निवेश की घोषणा की है, जिसमें टैक्सी हाइलिंग फर्म ओला (Ola), आतिथ्य फर्म ओयो (OYO) शामिल हैं।
  • OYO के यूके प्रमुख जेरेमी सॉन्डर्स के अनुसार लंदन विश्व के सबसे उन्नत और अभिनव आतिथ्य बाजारों में से एक है।
  • भविष्य में विस्तार
  • लंदन एंड पार्टनर्स (L&P) की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) लौरा सिट्रॉन के अनुसार, विश्व की सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक रूप में हम लंदन की कंपनियों के लिए भारत में व्यापार करने के अत्यधिक अवसर देखते हैं। विशेष रूप से प्रौद्योगिकी और वित्तीय सेवाओं जैसे क्षेत्रों में, जहां हम साझा ताकतें (Share Strengths) हैं।
  •  एल एंड पी के बंगलुरू और मुंबई में कार्यालय हैं, जो लंदन और भारत के बीच कारोबार करने की इच्छुक कंपनियों को बुनियादी सहायता प्रदान करते हैं।
  • भारत में अंतरराष्ट्रीय व्यापार मिशन चलाने के साथ-साथ लंदन के बिजनेस प्रमोशन आर्म के मेयर ने जून, 2019 में क्रिकेट विश्व कप फाइनल के साथ लंदन में भारतीय व्यवसायों के प्रतिनिधिमंडल की मेजबानी करने की योजना बनाई है।