Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

कतर : ओपेक (OPEC) से बाहर

OPEC-Organization of the Petroleum Exporting Countries
  • वर्तमान परिदृश्य
  • 3 दिसंबर, 2018 को कतर ने तेल निर्यातक देशों के संगठन ‘ओपेक’ (OPEC-Organization of the Petroleum Exporting Countries) की सदस्यता छोड़ने की घोषणा की।
  • कतर के ऊर्जा मंत्री साद अल-काबी (Saad Al-Kaabi) ने इस संबंध में एक पत्र OPEC के महासचिव मोहम्मद सनुसी बारकिंदो को प्रेषित कर दिया।
  • गौरतलब है कि यह घोषणा 6 दिसंबर, 2018 को वियना में आयोजित ‘ओपेक’ कॉन्फ्रेंस की 175वीं बैठक से ठीक पहले की गई।
  • इस तरह यह बैठक कतर की इस संगठन के सदस्य के रूप में आखिरी बैठक थी।
  • इस तरह ओपेक कानून (OPEC Statute) के अनुच्छेद 8 के तहत 1 जनवरी, 2019 से कतर, ओपेक का सदस्य नहीं है।
  • सदस्यता छोड़ने का कारण
  • कतर के ऊर्जा मंत्री साद अल-काबी के अनुसार, ओपेक की सदस्यता छोड़ने का कारण यह है कि उनका देश गैस उत्पादन पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है।
  • विदेश राजनीति के विशेषज्ञों का मानना है कि कतर के इस संगठन की सदस्यता छोड़ने का वास्तविक कारण सऊदी अरब और उसके सहयोगी खाड़ी देशों द्वारा पिछले 18 महीनों से इस देश का राजनीतिक और आर्थिक बहिष्कार करना है।
  • ध्यातव्य है कि जून, 2017 से ओपेक के सदस्य देशों-सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन तथा मिस्र ने कतर पर आतंकवाद का समर्थन करने का आरोप लगाकर उस पर प्रतिबंध आरोपित किए हैं।
  • ओपेक पर प्रभाव
  • विशेषज्ञों का मानना है कि कतर के इस संगठन की सदस्यता छोड़ने पर भी इस संगठन पर मामूली प्रभाव ही पड़ेगा, क्योंकि इस संगठन के देशों द्वारा उत्पादित कुल तेल की मात्रा के 2 प्रतिशत से भी कम का उत्पादन कतर करता है।
  • गौरतलब है कि 15 सदस्यीय ओपेक संगठन (कतर के सदस्यता छोड़ने के बाद अब 14 सदस्यीय) में सर्वाधिक तेल उत्पादन करने वाले देशों की सूची में कतर 11वें स्थान पर है।
  • उल्लेखनीय है कि ‘ओपेक’ का गठन 10-14 सितंबर, 1960 के मध्य हुए बगदाद सम्मेलन के दौरान हुआ था।
  • कतर ने इस संगठन की सदस्यता वर्ष 1961 में ली थी।
  • भारत पर प्रभाव
  • कतर द्वारा ओपेक की सदस्यता छोड़ने से भारत पर मामूली प्रभाव ही पड़ने की संभावना है, क्योंकि भारत कतर से केवल तरल प्राकृतिक गैस का ही आयात करता है और गैस कीमतों के निर्धारण में ओपेक देशों की कोई भूमिका नहीं है।