Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : [email protected]

भारतनेट परियोजना

January 31st, 2018
BharatNet Project
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 8 जनवरी, 2018 को भारत सरकार के ‘पत्र सूचना कार्यालय’ द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार सरकार ने भारतनेट परियोजना के चरण-I (Phase-I) को 31 दिसंबर, 2017 की निर्धारित तिथि के अंदर ही पूरा करने में सफलता प्राप्त की है।
  • NOFN परियोजना
  • उल्लेखनीय है कि ‘राष्ट्रीय ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क’ (NOFN) परियोजना को ही अब भारतनेट (BharatNet) परियोजना के नाम से जाना जाता है।
  • NOFN  परियोजना वर्ष 2012 में लांच की गई थी।
  • उद्देश्य
  • भारतनेट परियोजना का मुख्य उद्देश्य देश की सभी ग्राम पंचायतों (लगभग 2.5 लाख ग्राम पंचायतें) को 100 Mbps की ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी उपलब्ध कराना है।
  • विभिन्न चरण
  • भारतनेट परियोजना के चरण-I के अंतर्गत देश के विभिन्न राज्यों की 1 लाख ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से आपस में जोड़ा जा चुका है।
  • जबकि चरण-II के तहत मार्च, 2019 तक शेष 1.5 लाख ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी उपलब्ध कराए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • ज्ञातव्य है कि 13 नवंबर, 2017 को भारतनेट परियोजना के चरण-II का शुभारंभ किया जा चुका है।
  • अन्य महत्वपूर्ण तथ्य
  • भारतनेट परियोजना के कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार ने एक विशेष प्रयोजन वाहन (Special Purpose Vehicle) के रूप में भारतनेट ब्रॉडबैंड नेटवर्क लिमिटेड का गठन किया है।
  • भारतनेट परियोजना के चरण-I के कार्यान्वयन के संदर्भ में उ.प्र. (पूर्व), महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान एवं झारखंड को ‘सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्यों (Best Performing States) के रूप में घोषित किया गया है।
  • केरल, कर्नाटक तथा हरियाणा ऐसे राज्य रहे जिन्होंने इस परियोजना के तहत अपनी सभी ग्राम पंचायतों को कवर किया है।
  • भारतनेट के सर्वश्रेष्ठ उपयोग (Best Utilisation of BharatNet) हेतु कर्नाटक को पुरस्कृत किया गया है।

लेखक-सौरभ मेहरोत्रा

  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    4
    Shares
  •  
    4
    Shares
  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
  •