Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : [email protected]

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति की भारत यात्रा

August 7th, 2018
  • वर्तमान परिदृश्य
  • 8-11 जुलाई, 2018 के मध्य दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने भारत की राजकीय यात्रा संपन्न की।
  • दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति के रूप में यह उनकी पहली भारत यात्रा थी। राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी किम जुंग-सुक, उनके मंत्रिमंडल के सदस्य और कारोबारियों का दल भी आया।
  • उद्देश्य
  • दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति की यात्रा का उद्देश्य शीर्ष भारतीय नेतृत्व के साथ द्विपक्षीय, क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर साझा हितों से जुड़े विषयों पर चर्चा करना था। साथ ही इस भारत-यात्रा के माध्यम से दक्षिण कोरिया और भारत के रिश्तों को एक नया आयाम देना है।
  • यात्रा का विवरण
  • 8 जुलाई, 2018 को भारत के विदेश राज्य मंत्री वी.के. सिंह ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन की आगवानी की।
  • 9 जुलाई, 2018 को दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन ने भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ वार्ता की।
  • इसके बाद दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने भारत-कोरिया कारोबारी मंच के कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।
  • 9 जुलाई, 2018 की शाम को भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने ‘मंडी हाउस मेट्रो’ से नोएडा के ‘बॉटेनिकल गार्डेन’ मेट्रो स्टेशन तक की यात्रा टोकन खरीदकर आम जनता के साथ किया।
  • 9 जुलाई, 2018 को नोएडा, उत्तर प्रदेश में विश्व की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन भारतीय प्रधानमंत्री और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति ने संयुक्त रूप से किया। 35 एकड़ में फैली फैक्ट्री में सैमसंग ने करीब 5000 करोड़ रुपये का निवेश किया है।
  • सैमसंग ने भारत में वर्ष 1995 में अपना पहला प्लांट श्री पेरम्बदूर में लगाया था।
  • 10 जुलाई, 2018 को हैदराबाद हाउस में भारतीय प्रधानमंत्री और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति के बीच आधिकारिक शिखर-वार्ता हुई।
  • दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति अपनी पत्नी किम जुंग-सुक के साथ राजघाट भी गए, जहां उन्होंने राष्ट्रपिता ‘महात्मा गांधी’ को श्रद्धांजलि अर्पित की।
  • पहलवानी के लिए विख्यात हरियाणा के महावीर सिंह फोगट के परिवार से दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सुक ने मुलाकात की, क्योंकि वे ‘दंगल’ फिल्म से बहुत प्रभावित थीं।
  • द्विपक्षीय वार्ता
  • 10 जुलाई, 2018 को आयोजित द्विपक्षीय शिखर-वार्ता में पहली बार, दक्षिण कोरिया ने आतंकवाद के मुद्दे पर भारत के रुख का समर्थन करते हुए आतंकियों की खुलकर भर्त्सना की।
  • दोनों देशों के बीच 20 अरब डॉलर के द्विपक्षीय कारोबार को वर्ष 2030 तक 50 अरब डॉलर करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • कोरियाई भाषा में ‘दासी-मान्नायो’ और ‘गोम्य सुमनिदा’ को क्रमशः हिंदी में ‘हम फिर मिलेंगे’ और ‘धन्यवाद’ कहते हैं।
  • 11 MoU/समझौतों
  • उन्नत व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौते (CEPA) के हार्वेस्ट पैकेज को अपग्रेड करने के लिए चल रही वार्ता को सुविधाजनक बनाना।
  • व्यापक उपचार पर समझौता-ज्ञापन।
  • भविष्य रणनीति समूह पर समझौता-ज्ञापन (MoU)।
  • 2018-2022 की अवधि के लिए सांस्कृतिक विनिमय कार्यक्रम।
  • वैज्ञानिक और अनुसंधान परिषद (C.S.I.R.) और राष्ट्रीय अनुसंधान परिषद विज्ञान और प्रौद्योगिकी (N.S.T.) के बीच वैज्ञानिक और तकनीकी अनुसंधान के क्षेत्र में सहयोग पर समझौता-ज्ञापन।
  • अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन (R.D.S.O.) और कोरिया रेल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट (K.R.R.I.) के बीच सहयोग पर समझौता ज्ञापन।
  • जैव-प्रौद्योगिकी और जैव-अर्थशास्त्र के क्षेत्र में सहयोग पर समझौता-ज्ञापन।
  • आई.सी.टी. और दूरसंचार क्षेत्र में सहयोग पर एमओयू (MoU)।
  • भारत और रिपब्लिक ऑफ कोरिया के बीच सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के क्षेत्र में सहयोग पर समझौता-ज्ञापन।
  • गुजरात और कोरिया व्यापार संवर्धन एजेंसी (कोट्टा) के बीच समझौता-ज्ञापन।
  • रानी सूरिरत्न स्मृति कार्यक्रम के बारे में समझौता-ज्ञापन।
  • निष्कर्ष
  • दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति की हालिया भारत की यात्रा से दोनों देशों के मध्य द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती प्राप्त होगी। साथ ही दोनों देशों के मध्य ‘विशेष रणनीतिक साझेदारी’ स्थापित करने में सहायता मिलेगी। उल्लेखनीय है कि दक्षिण कोरिया दूसरा ऐसा देश है, जिसके साथ भारत की 2 + 2 स्वरूप में कूटनीतिक एवं सुरक्षा संबंधी वार्ता होती है।

लेखक-सुधांशु पांडे

  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share