Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय में नई सरकार का गठन

  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • मार्च, 2018 में पूर्वोत्तर भारत के तीन राज्यों यथा- त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय में नई सरकार का गठन हुआ। इससे पूर्व 3 मार्च, 2018 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा इन तीनों राज्यों के विधानसभा चुनावों के परिणाम जारी किए गए थे। ध्यातव्य है कि 18 रवरी, 2018 को त्रिपुरा तथा 27 रवरी, 2018 को मेघालय और नगालैंड में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए थे। जिसके लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 18 जनवरी, 2018 को अधिसूचना जारी की गई थी।
  • त्रिपुरा में नई सरकार
  • 9 मार्च, 2018 को भारतीय जनता पार्टी के नेता बिप्लब कुमार देब के नेतृत्व में त्रिपुरा में नई सरकार का गठन हुआ। अगरतला स्थित असम राइफल्स ग्राउंड में बिप्लब कुमार देब ने राज्य के 10वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। इनके साथ ही जिश्नू देबबर्मा ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री माणिक सरकार समेत अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। बिप्लब कुमार देब ने बनमालीपुर विधानसभा सीट से लेफ्ट फ्रंट के अमोल चक्रोबोर्ती को 9700 मतों से हराया था।
  • चुनाव परिणाम
  • 3 मार्च, 2018 को 60 सदस्यीय त्रिपुरा विधानसभा के 59 सीटों का चुनाव परिणाम इस प्रकार हैं-
      पार्टीसीटमत प्रतिशत
भारतीय जनता पार्टी3543
कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ1642.7
इंडिया (मार्क्सवादी)
इंडिजेनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा87.5
  • नगालैंड में नई सरकार
  • 8 मार्च, 2018 को नेफ्यू रियो (Neiphiu Rio) ने नगालैंड के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। नगालैंड के राज्यपाल पी.बी. आचार्य ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने चौथी बार नगालैंड के मुख्यमंत्री का कार्यभार ग्रहण किया है। हालांकि भाजपा और एन.डी.पी.पी. के गठबंधन के नेता के तौर पर पहली बार मुख्यमंत्री बने हैं। 60 सदस्यीय विधानसभा वाले नगालैंड राज्य में अधिकतम 12 मंत्री हो सकते हैं। मुख्यमंत्री के साथ 11 अन्य मंत्रियों ने शपथ ली थी। 16 मार्च, 2018 को मुख्यमंत्री ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल किया।
  • चुनाव परिणाम
  • 3 मार्च, 2018 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 60 सदस्यीय नगालैंड विधानसभा के 59 सीटों के चुनाव परिणाम जारी किए गए। जो इस प्रकार हैं-
      पार्टीसीटमत प्रतिशत
भारतीय जनता पार्टी1215.3
नगा पीपुल्स फ्रंट2738.8
जनता दल (यूनाइटेड)14.5
नेशनल पीपुल्स पार्टी26.9
नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी1625.2
स्वतंत्र उम्मीदवार14.3
  • मेघालय में नई सरकार
  • 6 मार्च, 2018 को नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के प्रमुख कॉनराड कोंगकल संगमा (Conrad Kongkal Sangma) ने मेघालय के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया। उनके साथ 11 मंत्रियों ने भी शपथ ली। मेघालय के गवर्नर गंगा प्रसाद ने मुख्यमंत्री तथा मंत्रियों को शपथ दिलाई। 60 सदस्यीय विधानसभा वाले मेघालय राज्य में अधिकतम 12 मंत्री हो सकते हैं। 11 मंत्रियों में नेशनल पीपुल्स पार्टी के 4, पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट के 2, यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के 3 तथा हिल स्टेट पीपुल डेमोक्रेटिक पार्टी और भाजपा के एक-एक मंत्री शामिल हैं।
  • चुनाव परिणाम
  • 3 मार्च, 2018 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 60 सदस्यीय मेघालय विधानसभा के 59 सीटों चुनाव परिणाम की घोषणा की गई। जिनका विवरण इस प्रकार हैं-
      पार्टीसीटमत प्रतिशत
भारतीय जनता पार्टी29.6
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस2128.5
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी11.6
हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी25.3
नेशनल पीपुल्स पार्टी1920.6
यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी611.6
के.एच.एन.ए.एम.10.9
पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट48.2
स्वतंत्र उम्मीदवार310.8
  • निष्कर्ष
  • पूर्वोत्तर के तीनों राज्यों यथा- त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड में ‘राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन’ (National Democratic Alliance) ने सरकार का गठन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्तर के इन राज्यों की जनता को गुड गवर्नेंस एजेंडे और ‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’ का समर्थन करने के लिए धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्ष 2018 में त्रिपुरा के परिणाम ऐतिहासिक हैं। त्रिपुरा को पूरी तरह बदलने में कोई कसर नहीं छोड़ा जाएगा। ध्यातव्य है कि पिछले कई वर्षों से त्रिपुरा में माणिक सरकार के नेतृत्व में वामपंथी शासन था। त्रिपुरा में पिछले विधानसभा चुनाव में जहां भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली थीं, वहीं वर्तमान विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 35 सीटें जीतकर शून्य से शिखर तक की यात्रा पूरी की है।

लेखक -काली शंकर ‘शारदेय’