Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

काठमांडू – रक्सौल रेल संपर्क

May 15th, 2018
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 7 अप्रैल, 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने बिहार के रक्सौल को नेपाल के काठमांडू से जोड़ने के लिए नई विद्युतीकृत रेल लाइन के निर्माण पर सहमति व्यक्त की।
  • उद्देश्य
  • काठमांडू-रक्सौल रेल संपर्क का उद्देश्य व्यक्ति-से-व्यक्ति संबंधों को बढ़ाने के लिए संपर्क को विस्तारित करना और आर्थिक उन्नति एवं विकास को प्रोत्साहित करना है।
  • महत्वपूर्ण तथ्य
  • भारत सरकार द्वारा नेपाल सरकार के परामर्श से काठमांडू-रक्सौल रेल संपर्क के लिए एक वर्ष के भीतर तैयारी सर्वेक्षण कार्य पूरा किया जाएगा और दोनों पक्ष परियोजना रिपोर्ट के आधार पर परियोजना के कार्यान्वयन एवं वित्तीय औपचारिकता को अंतिम रूप देंगे।
  • परियोजना के लिए भारत सरकार द्वारा वित्तीय समर्थन प्रदान किया जाएगा।
  • वर्ष 2018 में भारत एवं नेपाल के मध्य ‘जयनगर से जनकपुर/कुर्था’ और ‘जोगबनी से बिराटनगर कस्टम यार्ड’ तक रेलवे लाइनों का विस्तार पूरा हो जाएगा।
  • दोनों देशों के मध्य वर्तमान में चल रही रेल संपर्क परियोजनाओं के बाकी हिस्सों (1) जयनगर-बिजलपुरा-बरदीबास और (2) जोगबनी-बिराटनगर को प्राथमिकता के आधार पर आगे बढ़ाया जाएगा।
  • भारत-नेपाल संयुक्त कार्य दल सीमावर्ती रेल संपर्क परियोजनाओं पर रेल सेवाओं के संचालन से संबंधित मुद्दों पर वार्ता के लिए नियमित रूप से बैठक करता है।
  • भारत और नेपाल के मध्य अन्य तीन सीमा पार रेल संपर्क परियोजनाओं, नामत; (1) न्यू जलपाईगुड़ी-काकरभीटा, (2) नौतनवा-भैरहवा और (3) नेपालगंज रेड -नेपालगंज, का निर्माण किया जाना है।
  • उल्लेखनीय है कि नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी.शर्मा ओली 6-8 अप्रैल, 2018 के मध्य भारत की यात्रा पर रहे।

लेखक नीरज ओझा

  • 17
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    17
    Shares
  •  
    17
    Shares
  • 17
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.