Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

उत्तराखंड : चार अनाम चोटियों का नामकरण

Uttarakhand: Naming four unnamed peaks
  • वर्तमान परिदृश्य
  • अक्टूबर, 2018 में नेहरू पर्वतारोहण संस्थान और उत्तराखंड  पर्यटन विभाग के संयुक्त पर्वतारोहण दल के द्वारा उत्तराखंड के गंगोत्री नेशनल पार्क में स्थित चार अनाम, अछूती चोटियों को विजित किया गया।
  • संयुक्त अटल अभियान के तहत विजित इन चारों पर्वत चोटियों का नाम अटल-1, अटल-2, अटल-3 और अटल-4 रखा गया है।
  • अटल शिखर
  • अटल शिखर गंगोत्री ग्लेशियर के दाहिनी ओर रक्तवन घाटी में सैफी और सुदर्शन चोटी के निकट स्थित हैं।
  • चारों अटल शिखर में प्रत्येक की ऊंचाई 6,000 मीटर से अधिक है।
  • ये पर्वत शिखर वृहद् हिमालय या हिमाद्रि श्रेणी  का हिस्सा है।
  • ध्यातव्य है कि हिमाद्रि, हिमालय की सर्वाधिक सतत और सबसे ऊंची श्रेणी है, जिसकी औसत ऊंचाई लगभग 6,000 मीटर है।
  • संयुक्त अटल अभियान
  • संयुक्त अटल अभियान के तहत सात सदस्यीय पर्वतारोहण दल ‘नेहरू पर्वतारोहण संस्थान’ के प्रधानाचार्य कर्नल अमित बिष्ट के नेतृत्व में 4 अक्टूबर, 2018 को देहरादून से रवाना हुआ था।
  • उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस अभियान को ‘फ्लैग ऑफ’ किया था।
  • अभियान का उद्देश्य गंगोत्री हिमालय की चार अनाम चोटियों का नामकरण पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करना था। इसके लिए सफल आरोहण के दस्तावेज इंडियन माउंटेनियरिंग फाउंडेशन में जमा कराए जाएंगे।
  • ‘अटल शिखर’ हेतु प्रस्ताव गत सितंबर माह में मंजूर हुआ था।
  • इस अभियान को दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस (25 दिसंबर, 2018) से पहले ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स’ में भी दर्ज कराया जाएगा।
  • अभियान के नेतृत्वकर्ता कर्नल बिष्ट ने इससे पहले अछूते, अनाम शिखर ‘माउंट त्रिमुखी’ (6422 मीटर) को विजित किया था, जिसे लिम्का बुक में दर्ज किया गया था।
  • अन्य महत्वपूर्ण तथ्य
  • गंगोत्री हिमालय क्षेत्र में ‘शिवलिंग’, ‘सुदर्शन पर्वत’, ‘भागीरथी प्रथम, द्वितीय व तृतीय’, ‘गंगोत्री प्रथम, द्वितीय व तृतीय’, ‘केदारडोम’, ‘थले सागर’, ‘भृगुपंथ, मेरू’, ‘श्रीकांड’ सहित 52 पर्वत शिखर हैं।
  • इनमें से अधिकांश का आरोहण व नामकरण हो चुका है, परंतु कुछ शिखरों की ऊंचाई अधिक होने के कारण इनका आरोहण व नामकरण अभी तक नहीं हो सका है।
  • ऐसे ही दो पर्वत शिखरों का आरोहण व नामकरण गत चार जून को एवरेस्ट विजेता एवं हरियाणा की ‘बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओ अभियान’ की ब्रांड एंबेसेडर ‘सुनीता चौकन’ ने किया था।
  • सुनीता ने 6009 मीटर ऊंची चोटी को ‘मां’ और 6020 मीटर ऊंची चोटी को ‘बेटी’ नाम दिया।