Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

इंडिया स्किल रिपोर्ट, 2019

India Skill Report, 2019
  • वर्तमान संदर्भ
  • 22 नवंबर, 2018 को लखनऊ में आयोजित ‘सीआईआई ग्लोबल समित’ कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा द्वारा ‘इंडिया स्किल रिपोर्ट, 2019’ या ‘भारत कौशल रिपोर्ट, 2019’ जारी किया गया
  • क्या है इंडिया स्किल रिपोर्ट ?
  • इंडिया स्किल रिपोर्ट दो पृथक गतिविधयों- ‘व्हीबॉक्स नियोजनीयता/रोजगार क्षमता कौशल परीक्षण’ (Wheebox Employability Skill Test) एवं इंडिया हायरिंग इंटेंट सर्वे’ (India Hiring Intent Survey) का समामेलन है।
  • ‘व्हीबॉक्स नियोजनीयता कौशल परीक्षण’ (WEST) जहां छात्रों के मध्य रोजगार क्षमता का मूल्यांकन करता है, वहीं ‘इंडिया हायरिंग इंटेंट सर्वे’ आगामी वर्ष में रोजगार बाजार (Job Market) के परिदृश्य का पूर्वानुमान लगाता है। ‘इंडिया हायरिंग इंटेट सर्वे’, पीपुल स्ट्रांग (People Strong) संस्था द्वारा किया जाता है।
  • ‘इंडिया स्किल रिपोर्ट’ की शुरुआत वर्ष 2013-14 में की गई थी। इसका मुख्य उद्देश्य था प्रतिभा आपूर्ति शृंखला के मांग एवं आपूर्ति पक्ष को एक साथ एक मंच पर लाया जा सके।
  • रिपोर्ट में सहभागिता
  • ‘इंडिया स्किल रिपोर्ट, 2019’ व्हीबॉक्स’, पीपुलस्ट्रांग तथा भारतीय, उद्योग परिसंघ (CII) की एक पहल है।
  • इस रिपोर्ट को तैयार करने में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) तथा भारतीय विश्वविद्यालय संघ (AIU) द्वारा भी सहयोग किया गया है।
  • सर्वेक्षण के अनुसार रिपोर्ट के महत्वपूर्ण बिंदु
  • रिपोर्ट के अनुसार, नियोजनीयता (Employability) में वृद्धि दर्ज की गई एवं यह इस वर्ष 47  प्रतिशत के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है।
  • इस प्रकार विगत वर्ष की तुलना में वर्ष 2018 में 2 से 3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है, जबकि विगत 5 वर्षों में 15 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
  • इस वर्ष भी इंजीनियरिंग के छात्र सर्वाधिक रोजगार योग्य पाए गए, जबकि ‘एमबीए’ संकाय के आकर्षण में कमी आई है।
  • वर्तमान में भारतीय कार्यबल 473 मिलियन है, जिसके वर्ष 2022 तक 600 मिलियन तक हो जाने की संभावना है।
  • रिपोर्ट के अनुसार, बैंकिंग, सॉफ्टवेयर/हार्डवेयर एवं विर्निर्माण क्षेत्र में सर्वाधिक लोगों को नियोजित किया गया है।
  • नियोजनीयता में राज्यों की रैंकिंग
  • सर्वाधिक नियोजन (Hiring) गतिविधि वाले राज्य- (1) महाराष्ट्र, (2) कर्नाटक एवं (3) दिल्ली।
  • रोजगार योग्य प्रतिभाओं की आपूर्ति करने वाले शीर्ष 3 राज्य- (1) आंध्र प्रदेश तथा (2) दिल्ली तथा (3) उत्तर प्रदेश।
  • उच्चतम नियोजनीयता वाले शीर्ष 5 राज्य – (1) आंध्र प्रदेश, (2) पश्चिम बंगाल, (3) दिल्ली, (4) राजस्थान और (5) उत्तर प्रदेश।
  • उच्चतम नियोजनीयता वाले शीर्ष 5 शहर- (1) बंगलुरू, (2) चेन्नई, (3) गुंटूर, (4) लखनऊ एवं (5) मुंबई।
  • पुरुष एवं महिला नियोजनीयता
  • रिपोर्ट के अनुसार, इस वर्ष महिला रोजगार योग्यता में विगत वर्ष की तुलना में वृद्धि दर्ज की गई है। यह विगत वर्ष के 38 प्रतिशत से बढ़कर 46 प्रतिशत हो गई है।
  • वहीं पुरुष रोजगार योग्यता (नियोजनीयता) इस वर्ष 48 प्रतिशत रही, जबकि यह विगत वर्ष में 47 प्रतिशत थी।
  • पुरुष बनाम महिला का कार्य भागीदारिता – क्रमशः 75 प्रतिशत एवं 25 प्रतिशत।
  • पुरुष बनाम महिला नियोजनीयता – क्रमशः 47.39 प्रतिशत एवं 45.6 प्रतिशत।
  • रिपोर्ट के अनुसार, रोजगार पोर्टल एवं आंतरिक नाम निर्दिष्ट (Internal Referral) रोजगार प्राप्त करने के दो महत्वपूर्ण साधन के रूप में सामने आए हैं।
  • अधिक नियोजन योग्य प्रतिभा वाले क्षेत्र
BE/B.Tech 57.09%
MBA 36.44%
B.A. 29.3%
B. Com. 30.06%
B.Sc. 47.37%
MCA 43.19%
B. Pharma 36.29%
  • क्षेत्र जिनसे सर्वाधिक लोग नियुक्त किए गए
इंजीनियर (BE/B.Tech) 23%
स्नातक 22%
प्रबंधन 13%
परास्नातक 11%
आई.टी.आई. 12%

 लेखक-ललिन्द्र कुमार