Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

अभ्यास पश्चिम लहर

April 5th, 2018
  • वर्तमान परिदृश्य
  • 12 Òरवरी, 2018 से 1मार्च, 2018 के मध्य अरब सागर में त्रि-सेवा (थल, सेना, नौसेना एवं वायु सेना) अभ्यास ‘पश्चिम लहर’ (Paschim Leher) का आयोजन किया गया।
  • उद्देश्य
  • अभ्यास ‘पश्चिम लहर’ का उद्देश्य भारतीय नौसेना, थल सेना और वायु सेना के मध्य अंतर-संक्रियता को बढ़ावा देना था।
  • महत्वपूर्ण तथ्य
  • अभ्यास ‘पश्चिम लहर’ का आयोजन भारतीय नौसेना की पश्चिमी नौसैन्य कमान द्वारा किया गया।
  • अभ्यास में भारतीय नौसेना की पश्चिमी नौसैन्य कमान के अतिरिक्त पूर्वी नौसैन्य कमान, भारतीय थल सेना, भारतीय वायु सेना और भारतीय तटरक्षक बल शामिल हुए।
  • अभ्यास में आईएनएस विक्रमादित्य समेत भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े एवं पश्चिमी बेड़े के लगभग 40 युद्धपोत, पनडुब्बी एवं गश्ती पोत शामिल हुए।
  • इसके अतिरिक्त भारतीय वायु सेना के जगुआर, सुखोई-30 एमकेआई, मिग-29 आदि विमान शामिल हुए।
  • अभ्यास में भारत के पश्चिमी समुद्र तट पर प्रतिकूल समुद्री परिदृश्य में परिचालन योजनाओं और रणनीतियों का परीक्षण किया गया।
  • अभ्यास से पश्चिमी नौसेना के संचालन, प्रचालन-तंत्र एवं प्रशासनिक योजनाओं को परिष्कृत करने में मदद मिलेगी।
  • उल्लेखनीय है कि ‘पश्चिम लहर’ अभ्यास का विगत संस्करण नवंबर, 2016 में आयोजित हुआ था।

लेखक-नीरज ओझा

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •