Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

मासिक पत्रिका नवंबर दिसंबर,2017 पी.डी.एफ. डाउनलोड

November 22nd, 2017
magazine November-December 2017

अर्थव्यवस्था के प्रश्न पर चतुष्कोणीय घिरी केंद्र सरकार के लिए राहत एवं सुकून भरी खबर बाहर से तब आई जब विश्व बैंक की ‘डूइंग बिजनेस रिपोर्ट, 2018’ में भारत की रैंकिंग 30 स्थानों का उछाल हासिल कर 100 पर पहुंच गई। 190 देशों के लिए निर्मित इस रिपोर्ट में गत वर्ष भारत की रैंकिंग 130 थी। इस वर्ष की डूइंग बिजनेस रिपोर्ट की खास बात यह है कि इसकी थीम रोजगार सृजन हेतु सुधार है, जबकि रोजगार सृजन के प्रश्न पर ही पूर्व राजग सरकार के वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने सरकार की तीखी आलोचना की थी। भारत की सबसे बड़ी उपलब्धि यह रही कि वह वर्ष 2016-17 में सबसे ज्यादा सुधार करने वाले शीर्ष 10 देशों में 5वें क्रम पर तथा दक्षिण एशिया से एकमात्र देश था। भारत ने वर्ष 2018 की रिपोर्ट में डी.टी.एफ. (DTF : Distance to Frontier-सीमा से दूरी) पैमाने पर 4.71 अंकों की वृद्धि हासिल की। भारत से अधिक यह वृद्धि हासिल करने वाले देश ब्रुनेई दारुस्सलाम (1), थाईलैंड (2),मलावी (3) एवं कोसोवो (4) थे। डी.टी.एफ. माप प्रत्येक अर्थव्यवस्था की सीमा (100) से दूरी दर्शाता है। 0 से 100 तक के इस सूचकांक में ‘0’ सबसे कम प्रदर्शन का प्रतिनिधित्व करता है और 100 सीमा (Frontier) का प्रतिनिधित्व करता है। सीमा से निकटता अर्थव्यवस्था की सभी अर्थव्यवस्थों में प्रत्येक सूचक पर सबसे अच्छा प्रदर्शन दर्शाता है। वर्ष 2018 की रिपोर्ट में भारत का DTF 60.76 है, जो गत वर्ष 56.05 था। DTF में वृद्धि हासिल करने के लिए भारत ने अनेक महत्वपूर्ण सुधारों को अंजाम दिया। भवन निर्माण योजनाओं के लिए ऑनलाइन सिंगल विंडो सिस्टम लागू कर इमारतों के लिए परमिट में तीव्रता लाई गई। स्पिक (SPICe) फॉर्म के प्रस्ताव द्वारा पैन (PAN) एवं टैन (TAN) के लिए एकल फॉर्म की व्यवस्था लागू की गई। इसी प्रकार नया दिवालियापन एवं शोधन अक्षमता अधिनियम लागू कर निगमित ऋणियों की प्रक्रिया को पुनर्संगठित किया गया। डूइंग बिजनेस रिपोर्ट में भारत की वर्तमान उपलब्धि व्यापार-व्यवस्था के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी। इसी रिपोर्ट को इस अंक के आवरण आलेख का विषय बनाया गया है।




भारत ने संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी संधि, 1951 पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं, न ही वह वर्ष 1967 में लाए गए प्रोटोकॉल का हिस्सा है। संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि शरणार्थियों को वापस न भेजने का संयुक्त राष्ट्र सिद्धांत सभी देशों पर लागू होता है, चाहे उस देश ने शरणार्थी संधि पर हस्ताक्षर किए हों या नहीं। इस संबंध में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि यदि रोहिंग्या को भारत में आश्रय दिया जाता, तभी उन पर जबरन अपने देश वापसी न करने का सिद्धांत लागू होता है। गृहमंत्री के अनुसार, प्रत्येक संप्रभु राष्ट्र अवैध प्रवासियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पूर्ण रूप से स्वतंत्र है। मानवता और राष्ट्रवाद के इसी द्वंद्व में रोहिंग्या समस्या उलझी हुई है और फिलहाल सर्वोच्च न्यायालय में लंबित है। इस विषय पर ‘रोहिंग्या संकट : मानवता बनाम राष्ट्रवाद’ पर सामयिक आलेख इस अंक में प्रस्तुत है।
यूं तो अमेरिका-उत्तर कोरिया विवाद महज वाक्युद्ध के रूप में नजर आ रहा है, किंतु इसे इसी रूप में मान लेना ठीक नहीं होगा। यह मात्र दो देशों के मध्य का विवाद नहीं है। इसके पूरी दुनिया को अपने आगोश में ले लेने की क्षमता है। कोरियाई विवाद को एक वैश्विक संकट मानते हुए सामयिक आलेख इस अंक में प्रस्तुत किया गया है।
इस अंक के साथ निःशुल्क परिशिष्ट राजव्यवस्था विषय पर है, जो परीक्षार्थियों के लिए निश्चित रूप से उपयोगी सिद्ध होगा। पाठकों से अनुरोध है कि इस अंक पर अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दें।


current-affairs-nov-dec-2017.pdf (8012 downloads)




  • 238
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    238
    Shares
  •  
    238
    Shares
  • 238
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

39 thoughts on “मासिक पत्रिका नवंबर दिसंबर,2017 पी.डी.एफ. डाउनलोड”

  1. sir also i’m registered but i could not found download bcz their download link is not in front plz guide me plz give download steps

  2. Can you suggest me for which medium I should go whether for English or Hindi for preparation of pcs. I was a student of Hindi medium school..And good command in Hindi during that period.but for last 12 years I have been doing my all documentation in English.reading habit became English.kya karun kisse tyari karun Hindi ya English..Intjaar krunga jawab ka

  3. सर,मैगजीन बहुत ही अच्छी है । मैं ६ माह से इसका नियमित पाठक हूं। आपने इसमें नया भाग GS Pointer दिया है वह बहुत ही अच्छा है।

  4. please add up current affairs in your monthly magazine because it is not available any where in market so it is helpful for up exam and also increse mcq question in last page of your magazine.

  5. मेंने रजिस्टर और लॉग इन किया मगर डाउनलोड नही हो पा रहा है

Comments are closed.