Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

दीन दयाल स्पर्श योजना

November 30th, 2017
Deendayal sparsh scheme
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

फिलैटली (Philately), डाक टिकटों के संग्रहण और अध्ययन का नाम है। इसके अंतर्गत, डाक टिकटों के साथ-साथ अन्य फिलैटली उत्पादों का संग्रहण, इनकी खूबियों को समझना तथा इनके संबंध में शोध संबंधी कार्य-कलाप करना भी शामिल है। हाल ही में फिलैटली की पहुंच को बढ़ाने की दिशा में अपने प्रयास को और सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से डाक विभाग द्वारा ‘दीन दयाल स्पर्श योजना’ (Deen Dayal Sparsh Yojana) के नाम से एक छात्रवृत्ति योजना प्रारंभ की गई है।

  • 3 नवंबर, 2017 को संचार मंत्री मनोज सिन्हा द्वारा डाक टिकट संग्रह को प्रोत्साहन देने के लिए ‘दीन दयाल स्पर्श योजना’ का शुभारंभ किया गया।
  • यह डाक टिकटों के प्रति अभिरुचि और इस क्षेत्र में शोध कार्य के प्रचार-प्रसार हेतु पूरे भारत के स्कूली बच्चों के लिए एक छात्रवृत्ति योजना है।
  • ‘स्पर्श’ का पूर्णरूप है ‘डाक टिकटों के प्रति अभिरुचि और शोधकार्य के प्रोत्साहन हेतु छात्रवृत्ति’ (SPARSH : Scholarship for Promotion of Aptitude and Research in Stamps as a Hobby)।
  • स्पर्श योजना के तहत कक्षा VI से कक्षा IX तक के उन बच्चों को वार्षिक छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी, जिनका शैक्षणिक रिकॉर्ड अच्छा है और जिन्होंने डाक टिकट संग्रह को एक रुचि (Hobby) के रूप में चुना है।
  • प्रत्येक डाक परिमंडल (Circle) में आयोजित होने वाली एक प्रतियोगी चयन प्रक्रिया के आधार पर डाक टिकट संग्रह में रुचि रखने वाले छात्रों का चयन किया जाएगा।
  • डाक टिकट संग्रह को एक रुचि के रूप में जारी रखने के लिए अखिल भारतीय स्तर पर छात्रों को 920 छात्रवृत्तियां प्रदान की जाएंगी।
  • प्रत्येक डाक परिमंडल द्वारा कक्षा VI से IX तक के 10-10 छात्रों को, अधिकतम 40, छात्रवृत्तियां प्रदान की जाएंगी।
  • छात्रवृत्ति की राशि मान्यता प्राप्त विद्यालयों में पढ़ने वाले कक्षा VI से IX तक के नियमित छात्रों को तिमाही आधार पर वितरित की जाएगी।
  • छात्रवृत्ति पात्रता की शर्तें पूरी करने वाले और चयन प्रक्रिया में अर्हक पाए गए छात्रों को प्रदान की जाएगी।
  • छात्रवृत्ति की राशि 500 रुपये प्रतिमाह की दर से 6000 रुपये प्रतिवर्ष होगी।
  • छात्रवृत्ति के लिए चयन एक वर्ष के लिए किया जाएगा तथा एक बार चयनित छात्र दोबारा आवेदन कर सकता है।
  • प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रत्येक प्रत्याशित विद्यालय को प्रसिद्ध फिलैटलीविदों (Philatelist) में से चयनित एक फिलैटली परामर्शदाता (Philately Mentor) उपलब्ध कराया जाएगा।
  • फिलैटली परामर्शदाता विद्यालय स्तर पर फिलैटली क्लब स्थापित करने, युवा एवं फिलैटली के इच्छुक छात्रों को इस रुचि को आगे बढ़ाने तथा उनकी फिलैटली संबंधी परियोजना में सहायता प्रदान करेंगे।

लेखक-नीरज ओझा


  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share