Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

कोच्चि : पर्यटन प्रौद्योगिकी का अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन

July 15th, 2017
International Conference on Kochi Tourism Technology
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पर्यटन (Tourism) किसी भी राष्ट्र के लिए सामाजिक आयोजन रहा है। वर्तमान परिदृश्य में पर्यटन एक -दूसरे के सामाजिक, सांस्कृतिक एवं भौगोलिक मूल्यों को समझने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम बन गया है। पर्यटन उद्योग में प्रौद्योगिकी के बढ़ते महत्व को ध्यान में रखकर केरल सरकार एवं ‘एसोसिएशन ऑफ टूरिज्म ट्रेड ऑर्गनाइजेशन (ATTOI) द्वारा पर्यटन प्रौद्योगिकी पर तीन दिवसीय दूसरे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कोच्चि (केरल) में किया गया।

  • पर्यटन प्रौद्योगिकी के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (ICTT) का औपचारिक उद्घाटन केरल सरकार के पर्यटन मंत्री कदकंपली सुरेंद्रन द्वारा 9 जून, 2017 को किया गया।
  • एसोसिएशन ऑफ टूरिज्म ट्रेड ऑर्गनाइजेशन द्वारा 8 से 10 जून, 2017 के मध्य कोच्चि के ली मेरिडियन होटल में इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन समारोह का आयोजन किया गया।
  • एसोसिएशन ऑफ टूरिज्म ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (ATTOI) के वर्तमान अध्यक्ष अनीश कुमार पी.के. हैं।
  • पर्यटन प्रौद्योगिकी पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, 2017 का मुख्य उद्देश्य, पर्यटन उद्योग में शामिल व्यवसायों को डिजिटल प्लेटफॉर्म के प्रभावी उपयोग के माध्यम से नवीनतम तकनीक विकसित करने के लिए प्रोत्साहित करना है।
  • इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने के लिए लगभग 500 प्रतिनिधि शामिल हुए, जिनमें टूर ऑपरेटर, होटल मालिक, रिसॉर्ट मालिक, सोशल मीडिया विपणन कंपनियां और ब्लॉगर्स प्रमुख थे।
  • इस सम्मेलन समारोह में पर्यटन विभाग के निदेशक वाल किरण द्वारा पर्यटन उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए फेसबुक अभियान का शुभारंभ किया गया।
  • पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव वेणु वी. द्वारट`िविटर अभियान ‘ Kerala # India for Beginners’ की शुरुआत भी इस सम्मेलन में की गई।
  • इससे पहले पर्यटन प्रौद्योगिकी पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के पहले संस्करण का आयोजन तिरुवनंतपुरम (केरल) में किया गया था।
  • यह अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन उभरती हुई तकनीक को अपनाने में एवं पर्यटन क्षेत्र में विकास की गति को बढ़ाने में मदद करेगा।

भारत में पर्यटन का इतिहास

  • भारत में वर्ष 1946 में पर्यटन के महत्व को दृष्टिगत रखते हुए पर्यटन विकास के लिए परामर्श हेतु सारजेंट समिति की स्थापना की गई।
  •  वर्ष 1966 में पर्यटन विकास निगम लि. (ITDC) की स्थापना की गई।
  •  छठीं पंचवर्षीय योजना में प्रथम बार वर्ष 1982 में पर्यटन प्रोत्साहन नीति की घोषणा की गई।
  •  पर्यटन को आर्थिक विकास के बहुआयामी तंत्र के रूप में विकसित करने तथा रोजगार सृजन के लिए राष्ट्रीय पर्यटन नीति, 2002 बनाई गई थी।
  •  पर्यटन के क्षेत्र में प्रशिक्षण एवं अनुसंधान के लिए भारतीय पर्यटन और यात्रा प्रबंध संस्थान, ग्वालियर (म.प्र.) में कार्यरत है।

लेखक-प्रभात सिंह


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •