Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

एडॉप्ट ए हेरिटेज प्रोजेक्ट

November 6th, 2017
Adopt a heritage project
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारत वैश्विक स्तर पर अपनी समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत के लिए प्रसिद्ध है। पर्यटन स्थलों के ठीक रख-रखाव न हो पाने की वजह से ये अपने मूल स्वरूप को खोते जा रहे हैं। पर्यटन को बढ़ाने, उनके रख-रखाव तथा विकास के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर ‘एडॉप्ट ए हेरिटेज’ पहल की शुरुआत की। इस पहल के अंतर्गत सार्वजनिक तथा निजी उद्यमों, व्यक्तियों के सहयोग द्वारा विरासत स्थलों का रख-रखाव करना तथा उन्हें पर्यटन योग्य बनाना है।

  • एडॉप्ट ए हेरिटेज प्रोजेक्ट का शुभारंभ 27 सितंबर, 2017 को अतुल्य भारत अभियान 2.0 के साथ शुरू किया गया।
  • प्रोजेक्ट का उद्देश्य भारतीय पर्यटन स्थलों का संरक्षण करना और भारतीय पर्यटन को बढ़ावा देना है।
  • विरासतों के संरक्षण तथा विकास में सहयोग देने वाली संस्था तथा व्यक्तियों को ‘स्मारक मित्र’ के नाम से जाना जाएगा।
  • भारत में बड़ी संख्या में लोगों की आजीविका पर्यटन उद्योग से जुड़ी हैं।
  • वर्ष 2016 में भारतीय सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में पर्यटन का योगदान 9.6 प्रतिशत था।
  • प्रोजेक्ट के जरिए पर्यटन गतिविधियों में वृद्धि होगी तथा स्थायी नौकरियों की संख्या में वृद्धि की जाएगी।
    वस्तुतः ‘एडॉप्ट ए हेरिटज’ प्रोजेक्ट को पर्यटन मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय और भारतीय पुरातत्व विभाग के संयुक्त प्रयासों द्वारा लांच किया गया है।
  • उल्लेखनीय है कि भारतीय पर्यटन विभाग ने सितंबर, 2002 में ‘अतुल्य भारत’ अभियान को शुरू किया।
  • 27 सितंबर, 2017 को 37वें विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति महोदय ने ‘अतुल्य भारत’ की वेबसाइट http://incredibleindia.org को भी लांच किया।

लेखक-पवन तिवारी


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •