Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

उष्णकटिबंधीय चक्रवात ‘हार्वे’

November 6th, 2017
Tropical cyclone harvey
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पृष्ठभूमि
पृथ्वी पर आने वाली प्राकृतिक आपदाओं में चक्रवाती तूफानों की बारंबारता अधिक है। धरातल पर अवस्थिति के आधार पर चक्रवातों को दो प्रमुख प्रकारों में विभक्त करते है (1) शीतोष्ण कटिबंधीय चक्रवात (Temperate Cyclones) एवं (2) उष्णकटिबंधीय चक्रवात (Tropical Cyclones)। कर्क एवं मकर रेखाओं के मध्य उत्पन्न होने वाले चक्रवाती तूफानों को उष्णकटिबंधीय चक्रवात कहा जाता है। सामान्य रूप में चक्रवात न्यून वायुदाब के केंद्र होते हैं, जिनके चारों ओर लगभग संकेंद्रीय समदाब रेखाएं विस्तृत होती हैं तथा केंद्र से बाहर की ओर वायुदाब बढ़ता जाता है, परिणामस्वरूप परिधि से केंद्र की ओर हवाएं चलने लगती हैं, जिनकी दिशा उत्तरी गोलार्द्ध में घड़ी की सुइयों के विपरीत तथा दक्षिणी गोलार्द्ध में घड़ी की सुइयों के अनुकूल होती है। इस तरह चक्रवात अभिसारी परिसंचरण (Convergent Circulation) तंत्र होते हैं।
विश्व के विभिन्न भागों में उष्णकटिबंधीय चक्रवातों को अलग-अलग नामों से जाना जाता है। जैसे-चीन के पूर्वी एवं दक्षिण तटीय प्रदेशों में इसे टाइफून, बांग्लादेश तथा भारत के पूर्वी तटीय प्रदेशों में चक्रवात, ऑस्ट्रेलिया में विलि-विलि तथा अटलांटिक महासागर में इन्हें हरिकेन कहते हैं। इसी प्रकार का उष्णकटिबंधीय चक्रवात ‘हार्वे’ (Harvey) 25 अगस्त, 2017 को अमेरिका के मध्य टेक्सास (Middle Texas) प्रांत के तट से टकराया (Landfall)।

  • उत्पत्ति
    उष्णकटिबंधीय चक्रवात का निर्माण उस समय होता है, जब सतह की वायु गर्म होकर ऊपर उठ जाने के कारण किसी स्थान पर निम्न वायुदाब क्षेत्र का निर्माण हो जाता है और इस क्षेत्र के चारों ओर सापेक्षतः उच्च वायुदाब क्षेत्र से विशाल संकेंद्री एवं समदाब वायु राशियां सर्पिलाकार में तीव्र गति से चक्कर लगाती हैं। उष्णकटिबंधीय तूफान हार्वे की उत्पत्ति 13 अगस्त, 2017 को अफ्रीका के पश्चिमी तट पर उष्णकटिबंधीय तरंग (Tropical Wave) एवं केब वर्डे आइसलैंड (Cabo Verde Islands) के पास निम्न वायुदाब क्षेत्र के विलय के कारण हुआ।
  • हार्वे तूफान 22 अगस्त, 2017 को मैक्सिको की खाड़ी से आगे बढ़ कर अमेरिका के टेक्सास एवं लुसियाना प्रांत को प्रभावित किया।
  • हार्वे, अमेरिका में आए विल्मा तूफान (2005 में) के बाद मैक्सिको की खाड़ी में सबसे शक्तिशाली तूफान था। हार्वे तूफान 40 घंटे के अंतराल में उष्णकटिबंधीय अवदाब (Tropical Depression) से हरिकेन में बदल गया।
  • हार्वे से प्रभावित क्षेत्र
    हार्वे तूफान के प्रभावित क्षेत्रों में विडवर्ड, आइसलैंड, सूरीनाम, गुयाना, निकारागुआ, होंडुरास, बेलीज, केमन द्वीप, यूकाटन प्रायद्वीप एवं दक्षिण पूर्वी संयुक्त राज्य अमेरिका (टेक्सास एवं लुसियाना प्रांत) हैं।
  • हार्वे की श्रेणी (Category)
  • हार्वे तूफान के वायु की अधिकतम गति 190-209 किमी./घंटा तक थी। इस प्रकार सॉफिर-सिम्पसन पैमाने (Saffir-Simpson Scale) के अनुसार, ‘हार्वे’ श्रेणी-IV का तूफान था।
  • सॉफिर-सिम्पसन पैमाना एक मिनट निरंतर (One Minute Sustained) वायु गति के आधार पर चक्रवातों का वर्गीकरण करता है।
  • सॉफिर-सिम्पसन पैमाना चक्रवातों को 5 श्रेणियों में वर्गीकृत करता है-
तूफान (श्रेणी) वायु गति (किमी./घंटा)
   श्रेणी-I 119-153
   श्रेणी-II 154-177
   श्रेणी-III 178-208
   श्रेणी-IV 209-251
   श्रेणी-V 252 से अधिक
  • औपचारिक रूप से इस पैमाने का उपयोग हरिकेन (Hurricane) को श्रेणीबद्ध करने के लिए किया जाता है।
  • हार्वे का नामकरण
    चक्रवातों के नामकरण की परंपरा वर्ष 1953 से प्रारंभ हुई, जब नेशनल हरिकेन सेंटर (National Hurricane Center) द्वारा अटलांटिक तूफानों हेतु नाम-सूची निर्मित की गई। वर्ष 2017 में नेशनल हरिकेन सेंटर द्वारा जारी की गई उष्णकटिबंधीय चक्रवातों के नामों की सूची इस प्रकार है- अर्लेन, ब्रेट, सिण्ड़ी, डॉन, एमली, फ्रैंकलिन, गर्ट, हार्वे, इरमा, जोस, कैटिया, ली, मारिया, नाटे, आफेलिया, फिलिप, रीना, सीन, टैमी, विंस एवं व्हाइटनें।
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) द्वारा चक्रवातों को उनकी वायु गति के आधार पर चार वर्गो में विभाजित किया गया है-
    (1) चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) 62-87 किमी./घंटा
    (2) खतरनाक चक्रवाती तूफान (Severe Cyclonic Storm) 88-117 किमी./घंटा
    (3) अधिक खतरनाक चक्रवाती तूफान (Very Severe Cyclonic Storm)- 118-221 किमी./घंटा
    (4) भीषण चक्रवाती तूफान (Super Cyclonic Storm)-222 किमी./घंटा से अधिक।
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग तीन मिनट निरंतर तूफान की गति (Three Minute Sustained Wind Speed) का उपयोग कर चक्रवातों की गति का मापन करता है।
  • IMD के अनुसार, तूफान हार्वे को अधिक खतरनाक तूफान (Very Severe Cyclonic Storm) की श्रेणी में रखा जा सकता है।

लेखक-प्रभात सिंह


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •