Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

विश्व का सबसे बड़ा सौर संयंत्र

December 26th, 2016
World's largest solar plant
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सौर ऊर्जा को बड़े पैमाने पर विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करने हेतु सौर ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना की जाती है। सूर्य की ऊर्जा को दो प्रकार से विद्युत ऊर्जा में बदला जा सकता है। पहला प्रकाश विद्युत सेल की सहायता से और दूसरा किसी तरल पदार्थ को सूर्य की ऊष्मा से गर्म करने के बाद इससे विद्युत जनित्र चलाकर। हाल ही में तमिलनाडु में एक विशाल ‘सौर ऊर्जा संयंत्र’ की स्थापना की गई है।

  • अडानी ग्रुप द्वारा तमिलनाडु में रामनाथपुरम जिले में कामुथी तालुके में सेनगपडाई नामक स्थान पर एक सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना की गई है।
  • यह सौर ऊर्जा संयंत्र 648 मेगावॉट क्षमता का है।
  • अडानी ग्रुप कंपनी के अडानी ग्रीन एनर्जी (तमिलनाडु) लि. ने इस संयंत्र की स्थापना हेतु लगभग 4550 करोड़ रुपये की लागत से 2500 एकड़ में इस संयंत्र की स्थापना की है।
  • किसी एक स्थान पर लगाया गया यह विश्व का सबसे बड़ा ऊर्जा संयंत्र है।
  • उल्लेखनीय है कि यह प्रोजेक्ट भारत सरकार की उस सौर ऊर्जा नीति में सहयोग प्रदान करेगा जिसमें वर्ष 2021-22 तक 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है।
  • ध्यातव्य है कि 11 जनवरी, 2010 को जवाहरलाल नेहरू नेशनल सोलर मिशन लांच किया गया था।
  • उत्तर प्रदेश में स्थित रामपुरा भारत का प्रथम गांव है जिसने अपना सौर ऊर्जा प्लांट लगाया है।
  • उल्लेखनीय है कि सौर ऊर्जा वैकल्पिक ऊर्जा का सबसे बड़ा संग्रहागार है। यह पर्यावरण के सर्वोत्तम अनुकूल है।
  • वर्ष 1938 में अमेरिकी वैज्ञानिक एच.ए. बेथे ने बताया कि सूर्य तथा ब्रह्मांड के अन्य तारों की ऊर्जा का स्रोत वहां होने वाला नाभिकीय संलयन है।
  • नाभिकीय संलयन (Nuclear Fussion) में दो हल्के नाभिक आपस में मिलकर एक भारी नाभिक का निर्माण करते हैं।
  • हाइड्रोजन बम नाभिकीय संलयन की प्रक्रिया पर आधारित है।
  • नाभिकीय संलयन की प्रक्रिया में हाइड्रोजन का नाभिक संलयित होकर हीलियम का निर्माण करता हैं।
  • सिलिकॉन का उपयोग सौर सेल में किया जाता है।
  • वायुमंडल तथा पृथ्वी की सतह की ऊष्मा का प्रधान स्रोत ‘सूर्य’ है। सूर्य से जो ऊर्जा विकरित होती है वह ‘लघु तरंग सौर्यिक विकिरण’ होता है जबकि पृथ्वी द्वारा होने वाला उनका विकिरण दीर्घ तरंगों के रूप में होता है।
  • किसी तल द्वारा परावर्तित विकिरण तथा उस तल द्वारा कुल प्राप्त किए गए विकिरण के अनुपात को संबंधित तल का एल्बिडो कहते हैं।
  • लखनऊ सोलर पॉवर डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा उत्तर प्रदेश में कुल 600 मेगावॉट क्षमता के सोलर पार्क की स्थापना को मंजूरी मिल चुकी है। ये सोलर पार्क जालौन, इलाहाबाद, मिर्जापुर तथा कानपुर देहात जिलों में लगाएं जाएंगे।
  • सूर्य के प्रकाश की किरणें छोटे-छोटे कणों से मिलकर बनी होती हैं जिन्हें फोटॉन कहते हैं। जब ये फोटॉन सोलर सेल में उपस्थित सिलिकॉन परमाणुओं से टकराते हैं, तो n-type सिलिकॉन से इलेक्ट्रॉन मुक्त होकर P-type सिलिकॉन में प्रवेश कर जाते हैं। इससे n-type सिलिकॉन धनावेशित तथा p-type सिलिकॉन ऋणावेशित हो जाते हैं। इससे एक वैद्युत क्षेत्र उत्पन्न हो जाता है तथा विद्युत धारा उपकरणों में प्रवाहित होने लगती है।

लेखक-राकेश कुमार मिश्रा


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •