Contact Us: 0532-246-5524,25, M: -9335140296 Email: [email protected]

रोमानिया में अमेरिकी रक्षा प्रणाली का शुभारंभ

US defense system launched in Romania

विश्व के लगभग 30 देशों के पास बैलिस्टिक मिसाइलें उपलब्ध हैं अथवा वे विकसित करने के लिए प्रयासरत हैं। बैलिस्टिक मिसाइलों के प्रसार को अमेरिका व नाटो द्वारा आसन्न खतरे के तौर पर देखा गया। अमेरिका द्वारा अपने एवं नाटो के सहयोगी देशों की मिसाइल हमले से सुरक्षा के लिए यूरोप में ‘यूरोपियन फेज्ड एडॉप्टिव एप्रोच’ (European Phased Adaptive Approach-EPAA) नामक मिसाइल सुरक्षा प्रणाली विकसित किए जाने की घोषणा की गई। नाटो द्वारा भी लिस्बन शिखर सम्मेलन (2010) में सहयोगी देशों की सामूहिक सुरक्षा के लिए नाटो बैलिस्टिक मिसाइल सुरक्षा प्रणाली (एनबीएमडीएस) के विकास का निर्णय लिया गया और अमेरिका के इपीएए को सराहनीय पहल मानते हुए अपनी मिसाइल सुरक्षा प्रणाली का एक हिस्सा घोषित किया। अमेरिका द्वारा विकसित इपीएए मध्य पूर्व विशेषकर ईरानी बैलिस्टिक मिसाइलों से सुरक्षा के लिए यूरोप में तैनात की जा रही है। इपीएए की यूरोप में तैनाती के लिए अमेरिका एवं कई यूरोपीय देशों के मध्य समझौता हुआ है जिनमें रोमानिया, पोलैंड व स्पेन शामिल हैं। सितंबर, 2013 में अमेरिका व रोमानिया के मध्य इपीएए की तैनाती के लिए समझौता-ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया। इपीएए के दूसरे चरण में रोमानिया के देवेसिलु एयरबेस (Deveselu Airbase) में 12 मई, 2016 को एसएम-3 बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस इंटरसेप्टर का शुभारंभ किया गया। यह इंटरसेप्टर यूरोपीय सहयोगी देशों सहित अमेरिकी भू-भाग, नागरिकों एवं सेनाओं की मिसाइल हमले से सुरक्षा प्रदान करेगा।

  • 12 मई, 2016 को अमेरिका द्वारा रोमानिया के देवेसिलु एयरबेस में एजीस एशोर मिसाइल सुरक्षा साइट (Aegis Ashore Missile Defence Site) का शुभारंभ किया गया।
  • एजीस एशोर मिसाइल सुरक्षा प्रणाली यूरोपीय सहयोगी देशों की सुरक्षा के लिए शुरू किए गए ईपीएए का एक हिस्सा है।
  • रोमानिया के इस सुरक्षा साइट की स्थापना 430 एकड़ (175 हेक्टेयर) क्षेत्र में की गई है। इसकी अनुमानित लागत 800 मिलियन डॉलर है।
  • एजीस एशोर मिसाइल सुरक्षा साइट पर एसपीवाई-1 (SPY-1) रडार लगाया गया है जो विश्व का सर्वाधिक क्षेत्र कवर करने वाला फेज्ड एरे रडार (Phased Array Radar) है।
  • इस साइट पर रडार के साथ निगरानी व नियंत्रण उपकरण एवं संचार कैमरे लगाए गए हैं।
  • अमेरिकी नौसेना इस भू-आधारित मिसाइल सुरक्षा प्रणाली का संचालन करेगी।
  • ईपीएए का दूसरा चरण एजीस एशोर एवं स्टैंडर्ड मिसाइल-3 (SM-3) से संबंधित है।
  • एसएम-3 इंटरसेप्टर की तैनाती सुरक्षात्मक प्रयोजन के लिए की गई है न कि आक्रामक प्रयोजन के लिए।
  • एसएम-3 किसी प्रकार के वारहेड वहन करने में सक्षम नहीं है। यह अपनी गतिज ऊर्जा के द्वारा दुश्मन की बैलिस्टिक मिसाइलों को नष्ट करने में सक्षम है।
  • ईपीएए के तीसरे चरण में वर्ष 2018 में पोलैंड में एजीस एशोर साइट स्थापित की जाएगी।
  • ज्ञातव्य है कि इपीएए आरंभ में चार चरणीय था। वर्ष 2013 में इसके चौथे चरण को रद्द कर दिया गया।

लेखक-आश नारायण मिश्रा