UPSI Toh Online Test Series

UPSI Toh Online Test Series

UPSI Toh Online Test Series More »

SSC Toh Online Prep. Test Series

SSC Toh Online Prep. Test Series

SSC Toh Online Prep. Test Series More »

SSC Toh CHSL (10+2) Online Test Series

SSC Toh CHSL (10+2) Online Test Series

SSC Toh CHSL (10+2) Online Test Series More »

Delhi Police Constable Online Test Series

Delhi Police Constable Online Test Series

Delhi Police Constable Online Test Series More »

Railway Mains Toh Online Test Series

Railway Mains Toh Online Test Series

Railway Mains Toh Online Test Series More »

 

मिशन परिवार विकास

Mission parivar vikas
  • क्या है?
    देश के सर्वाधिक कुल प्रजनन दर (Total Fertility Rate) वाले 145 जिलों में उन्नत परिवार नियोजन सेवाओं के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रस्तावित मिशन।
  • कब से?
  • 23 सितंबर, 2016 को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा ‘मिशन परिवार विकास’ प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया।
  • उद्देश्य
    उच्च गुणवत्ता के परिवार नियोजन विकल्पों तक पहुंच में तेजी लाना।
  • विशेषताएं
  • मिशन परिवार विकास सर्वाधिक कुल प्रजनन दर वाले देश के सात राज्यों के 145 जिलों में एक साथ शुरू किया जाएगा।
  • ये सात राज्य उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड और असम हैं।
  • इन 145 जिलों में विशेष एवं तीव्र प्रयासों के जरिए कुल प्रजनन दर को वर्तमान के लगभग 3.0 से घटा कर वर्ष 2025 तक 2.1 पर लाने का लक्ष्य है।
  • क्यों है आवश्यक?
    उल्लेखनीय है कि 7 राज्यों के इन 145 जिलों में देश की 28 प्रतिशत (लगभग 33 करोड़) जनसंख्या निवास करती है। इन जिलों में 40 प्रतिशत दंपत्ति ऐसे हैं जिन्हें आवश्यकता के अनुरूप परिवार नियोजन के साधन मुहैया नहीं हो रहे हैं। प्रसव के दौरान होने वाली माताओं की मृत्यु में 25-30 प्रतिशत इन्हीं जिलों में होती है। इसी तरह ये जिले देश में नवजात शिशुओं की 50 प्रतिशत मौतों के लिए उत्तरदायी हैं। इसके अतिरिक्त इन 145 में से 115 जिलों में कम उम्र में विवाह के कारण किशोरावस्था में ही मां बन जाने वाली लड़कियों की संख्या अधिक है।
  • भारत : परिवार नियोजन कार्यक्रम में मील के पत्थर
  • 1952 :- राष्ट्रीय परिवार नियोजन कार्यक्रम लांच करने वाला विश्व का पहला देश बना।
  • 1976 :- पहली राष्ट्रीय जनसंख्या नीति प्रतिपादित।
  • 1983:- पहली राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति प्रकाशित।
  • 1994 :- काहिरा (मिस्र) में आयोजित अंतरराष्ट्रीय जनसंख्या एवं विकास सम्मेलन (ICPD) में कार्य-योजना पर भारत द्वारा हस्ताक्षर।
  • 1996 :- परिवार नियोजन में लक्ष्य-मुक्त दृष्टिकोण (TFA : Target-Free Approach) का प्रारंभ।
  • 1997 :- प्रजनन एवं बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम चरण-I (RCH-I) का शुभारंभ।
  • 2000 :- दूसरी राष्ट्रीय जनसंख्या नीति प्रतिपादित।
  • 2002 :- द्वितीय राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति प्रकाशित।
  • 2005 :- राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन तथा प्रजनन एवं बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम चरण-II (RCH-II) का शुभारंभ।
  • 2012 :- राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन वर्ष 2017 तक विस्तारित।
  • 2012 :- परिवार नियोजन पर लंदन शिखर सम्मेलन में प्रतिभाग।
  • लेखक-सुधीर कुमार तिवारी