मासिक पत्रिका नवम्बर-दिसम्बर 2016 पी.डी.एफ. डाउनलोड

Monthly Current Affairs Nov-Dec 2016

8 नवंबर, 2016 को सरकार द्वारा लिया गया नोटबंदी का फैसला इतिहास किस प्रकार लिपिबद्ध करेगा, यह अभी भविष्य के गर्भ में है। फिलहाल इसकी वर्तमान सफलता और असफलता पर ही विमर्श संभव है। सर्वाधिक मार्के की जो बात उभर कर आई वह यह कि भारत की जनता राष्ट्रीय महत्व के कायदे-कानून के अनुपालन में शांत-चित्त लाइनों में खड़ी रही बिना क्रोधित या हिंसक हुए, बावजूद इसके कि पूरे देश में 100 से अधिक लोगों को नोटबंदी के कारण जान गंवानी पड़ी है। दूसरी बात यह कि भारत का बैंकिंग सिस्टम बेहद लचर है। इसके पास संपूर्ण देश के वित्तीय समायोजन की क्षमता नहीं है और मौका मिलने पर यह भ्रष्टाचार से अछूता भी नहीं रह सकता है। फिलहाल बैंकों को अपने पास जमा भारी रकम के लाभकारी निवेश के प्रति सजग रहना होगा अन्यथा लोगों को उनकी मांग पर धन मुहैय्या न करा पाने की स्थिति में उस पर देय ब्याज उनके लिए घाटे का सौदा साबित हो सकता है। नोटबंदी जनता के उपभोग-व्यवहार में बदलाव का भी वाहक बनी है। जहां दैनिक उपभोग की वस्तुओं के उपभोग में कमी आई है, वहीं कार जैसी स्थायी और लोन आधारित वस्तुओं की मांग बढ़ी है। यह बदलाव क्षणिक साबित होता है या फिर कोई स्थायी प्रवृत्ति रूपाकार लेती है, यह देखना अभी शेष है। इस अंक का आवरण आलेख-‘‘विमुद्रीकरण : आवश्यकता, परिणाम एवं निहितार्थ’’ नोटबंदी के विभिन्न पहलुओं पर ही केंद्रित है।
विश्व का सबसे शक्तिशाली व्यक्तित्व अमेरिकी राष्ट्रपति अब एक व्यवसायी होगा। सभी अनुमानों को ध्वस्त करते हुए अरबपति ‘डोनाल्ड ट्रम्प’ अमेरिका के नए राष्ट्रपति निर्वाचित हुए हैं। ताजा अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव परिणाम पूरी दुनिया में मतदाताओं की उसी मनोदशा का प्रतिफल है जिसमें वे ‘‘संपूर्ण विश्व एक गांव है’’ के दर्शन का समर्थन करते हैं, किंतु अपने लिए ‘‘अपना गांव ही विश्व है’’ की तर्ज पर राष्ट्रवादी विचारधारा के प्रतिनिधि का चुनाव करते हैं। दुनियाभर में राष्ट्रवाद और आर्थिक प्रगति को मुख्य मुद्दा बनाने वाली दक्षिणपंथी सरकारों के चयन की प्रवृत्ति बढ़ी है। जापान में ‘शिंजो अबे’, ब्रिटेन में ‘थेरसा मे’, रूस में ‘व्लादिमीर पुतिन,’ भारत में ‘नरेंद्र मोदी’ की जीत इसका उदाहरण है। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव, 2016 पर सामयिक आलेख इस अंक में प्रस्तुत है।
‘‘हमारे अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने इतिहास लिखना जारी रखा है’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इसरो के वैज्ञानिकों के लिए यह बधाई संदेश उनकी उपलब्धियों का सही बखान करता है। 26 सितंबर, 2016 को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, शार, हरिकोटा से पी.एस.एल.वी-सी35 के सफल प्रक्षेपण द्वारा इसरो ने पहली बार दो विविध कक्षाओं में 8 उपग्रहों को प्रक्षेपित किया। पी.एस.एल.वी. की यह अब तक की सबसे लंबी उड़ान भी थी जिसमें लिफ्ट ऑफ के बाद मिशन को पूर्ण होने में कुल 2 घंटे 15 मिनट और 33 सेकंड का समय लगा। इस अंक में पी.एस.एल.वी. की इस सबसे लंबी उड़ान पर भी सामयिक आलेख प्रस्तुत है।
भारत-रूस की दोस्ती अटूट है। इसे और पुख्ता करने के लिए हम प्रति वर्ष भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन का आयोजन करते हैं। सम्मेलन की 17वीं कड़ी पर सामयिक आलेख इस अंक में प्रस्तुत है।
8वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन और संयुक्त राष्ट्र संघ के नए महासचिव के चुनाव पर भी सामयिक आलेख इस अंक में दिए गए हैं।
स्थायी स्तंभ ‘संदर्भ’ के तहत इस अंक में ‘डूइंग बिजनेस इंडेक्स, 2017’ पर परीक्षोपयोगी सामग्री प्रस्तुत की गई है। परीक्षा परिशिष्ट के तहत अतिरिक्तांक के अंतर्गत ‘समीक्षा अधिकारी/सहायक समीक्षा अधिकारी’ प्रारंभिक परीक्षा, 2016 का व्याख्यात्मक हल प्रश्न-पत्र तथा ‘बागवानी परिदृश्य’ पर विशेष सामग्री का प्रकाशन किया गया है जो परीक्षार्थियों के लिए बेहद लाभकारी सिद्ध होगा।
पत्रिका में उ.प्र. पी.सी.एस. परीक्षा में संभाव्य परिवर्तनों के दृष्टिगत कुछ बदलाव किए जा रहे हैं जिस पर पाठकों की प्रतिक्रिया अपेक्षित है।

Monthly Current Affairs Nov-Dec 2016 PDF Download (264042 downloads)