बिहार पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2017(मासिक पत्रिका, जनवरी-फरवरी, 2017 अंक के साथ निःशुल्क परीक्षा परिशिष्ट अंक)

परीक्षा – बिहार पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2017
[60वीं, 61वीं एवं 62वीं सम्मिलित संयुक्त (प्रारंभिक) प्रतियोगिता परीक्षा 
विषय – सामान्य अध्ययन
प्रश्न पुस्तिका सीरीज – B
प्रश्न संख्या – (16)
आयोग का उत्तर – (e)
सम-सामयिक घटना चक्र का उत्तर – (b)
परिणाम – आयोग का उत्तर सही है।

Q.16.निम्न में से किस वायसराय के कार्यकाल में भारतीयों को ‘राय बहादुर’ और ‘खान बहादुर’ उपाधियां प्रदान करना प्रारंभ हुआ?
(a) लॉर्ड रिपन (b) लॉर्ड लिटन (c) लॉर्ड मेयो
(d) लॉर्ड डफरिन (e) उपरोक्त में से कोई नहीं/उपरोक्त में से एक से अधिक
उत्तर- (e)
व्याख्या-
राय बहादुर या खान बहादुर उपाधियां ब्रिटिश सरकार द्वारा भारतीयों को सरकार की ओर से कर्तव्यों के उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए अथवा व्यक्तिगत विशिष्ट कार्यों के लिए प्रदान की जाती थी। पदक प्राप्तकर्ताओं में सरकारी अधिकारी (रेलवे, पुलिस, न्यायपालिका आदि) सिविल सेवक, प्रमुख व्यवसायी और नागरिक शामिल थे। राय बहादुर उपाधि से मुख्य रूप से हिंदुओं को सम्मानित किया जाता था। मुसलमानों के लिए इसका शीर्षक ‘खान बहादुर’ तथा सिक्खों के लिए ‘सरदार बहादुर’ था। ये उपाधियां 1911 के दिल्ली दरबार के अवसर पर किंग जार्ज पंचम द्वारा शुरू की गईं। उस समय भारत का गवर्नर जनरल लॉर्ड रीडिंग था।

प्रश्न संख्या – (46)
आयोग का उत्तर – (e)
सम-सामयिक घटना चक्र का उत्तर – (b)
परिणाम – आयोग का उत्तर सही है।
Q.46.एक M.P. की सीट को रिक्त घोषित किया जा सकता है यदि वह सदन से लगातार …….. की अवधि के लिए अनुपस्थित रहता है।
(a) 6 माह (b) 2 माह (c) 3 माह
(d) एक वर्ष (e) उपरोक्त में से कोई नहीं/उपरोक्त में से एक से अधिक
उत्तर- (e)
व्याख्या-
भारतीय संविधान के अनुच्छेद 101(4) के तहत संसद तथा अनुच्छेद 190 (4) के तहत राज्य विधान मंडल के किसी सदस्य की सदस्यता तब समाप्त समझी जाती है जब वह 60 दिन की अवधि तक सदन की अनुज्ञा के बिना उसके सभी अधिवेशनों से अनुपस्थित रहता है। परंतु इस अविध में सदन के सत्रावसान या निरंतर चार से अधिक दिनों के लिए स्थगित समय नहीं जोड़ा जाएगा। चूंकि संविधान में 60 दिन का उल्लेख है 2 माह की नहीं इसलिए इसे अस्वीकार किया जा सकता है क्योंकि 2 माह में 59 से 62 दिन अलग-अलग स्थितियों में हो सकते हैं। आयोग द्वारा उत्तर (e) ग्रहण करने का एक कारण यह भी है कि सत्रावसान व स्थगन के दिनों के संगणन लेने पर लगातार अनुपस्थिति के दिनों की संख्या 60 से काफी अधिक भी हो सकती है।

प्रश्न संख्या – (68)
आयोग का उत्तर – (e)
सम-सामयिक घटना चक्र का उत्तर – c)
परिणाम – आयोग का उत्तर सही है।

Q.68.जीविका (JEEVIKA) बिहार सरकार की एक पहल है। इसका संबंध है-
(a) रोजगार सृजन से (b) वित्तीय समावेश से (c) गरीबी उन्मूलन से
(d) सार्वजनिक वितरण से (e) उपरोक्त में से कोई नहीं/उपरोक्त में से एक से अधिक
उत्तर- (e)
व्याख्या-
‘बिहार ग्रामीण जीविकोपार्जन परियोजना’ (जीविका) बिहार सरकार की गरीबी उन्मूलन की एक प्रमुख पहल है। इस परियोजना का उद्देश्य ग्रामीण समुदाय विशेषकर गरीब तबके के लोगों को उनके जीविकोपार्जन के लिए समुचित अवसर उपलब्ध कराना और महिलाओं के लाभ के लिए जीविकोपार्जन के अवसर प्रदान करना एवं सामाजिक तथा आर्थिक सशक्तीकरण करना है।
प्रश्न संख्या – (102)
आयोग का उत्तर – (d)
सम-सामयिक घटना चक्र का उत्तर – (e)
परिणाम – आयोग का उत्तर सही है।

Q.102.जीव-कोशिकाओं में आनुवंशिक लक्षणों के नियंत्रण में निम्नलिखित में से कौन-सा उत्तरदायी है?
(a) एंजाइम (b) हॉर्मोन (c) आर.एन.ए.
(d) डी.एन.ए. (e) उपरोक्त में से कोई नहीं/उपरोक्त में से एक से अधिक
उत्तर- (d)
व्याख्या-
मनुष्य के शरीर में विद्यमान अरबों-खरबों कोशिकाएं एक-दूसरे के सामंजस्य में कार्य कर जीवन के लिए महत्वपूर्ण है। इन कोशिकाओं के नियंत्रण हेतु डीएनए उत्तरदायी होता है। प्रत्येक व्यक्ति के विशिष्ट (Unique) डीएनए की आनुवांशिक लक्षणों के नियंत्रण में महत्वपूर्ण भूमिका होती है।