इंडिया रैंकिंग-2017

India ranking 2017
  • भूमिका
    स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद से भारत में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में विश्वविद्यालयों/विश्वविद्यालय स्तरीय संस्थानों एवं कॉलेजों की संख्या के संदर्भ में अभूतपूर्व वृद्धि देखने को मिली है। जहां वर्ष 1950 में देश में 20 विश्वविद्यालय थे, वहीं फरवरी, 2017 तक इनकी संख्या बढ़कर 789 तक पहुंच चुकी है। वर्तमान में देश में 47 केंद्रीय विश्वविद्यालय, 359 राज्य विश्वविद्यालय, 260 निजी विश्वविद्यालय एवं 123 डीम्ड विश्वविद्यालय स्थापित हैं।
    उच्च शिक्षा केंद्र एवं राज्य सरकार दोनों का साझा उत्तरदायित्व है तथा सरकार द्वारा उच्च शिक्षा क्षेत्र की गुणवत्ता में सुधार हेतु कई योजनाएं कार्यान्वित की जा रहीं हैं, जैसे, ‘राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान’ (RUSA), ज्ञान (GIAN : Global Inifiative for Academics Network), इमप्रिंट (IMPRINT : Impacting Research, Innovation & Technology), तकनीकी शिक्षा गुणवत्ता सुधार कार्यक्रम (TEQIP : Technical Education Quality Improvement Programme), पंडित मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक एवं शिक्षण मिशन (PMMNMTT), स्वयं (SWAYAM : Study Webs of Active-Learning for Young Aspiring Minds) इत्यादि।
  • एनआईआरएफ
    एनआईआरएफ (NIRF : National Institutional Ranking Framework), देश के उच्च शिक्षा संस्थानों की रैंकिंग तैयार करने के उद्देश्य से केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा सितंबर, 2015 में लांच की गई एक पहल है जो इन संस्थानों को उनकी क्षमता की पहचान करने में मदद कर विश्व-स्तरीय संस्थानों के रूप में उभरने हेतु प्रेरित करेगी।
    एनआईआरएफ के तहत निम्न पांच व्यापक मानदंडों (Parameters) के आधार पर संस्थानों की रैंकिंग तैयार की जाती है-(i) शिक्षण, अधिगम एवं संसाधन (Teaching, Learning & Re-sources), (ii) अनुसंधान एवं पेशेवर अभ्यास (Research & Professional Practice), (iii) स्नातक परिणाम (Graduation Outcome), (iv) पहुंच एवं समावेशिता (Outreach & Inclusivity) तथा (v) अवधारणा (Perception)।
  • रैंकिंग, 2017
    राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) के तहत देश के उच्च शिक्षण संस्थानों की पहली रैंकिंग (इंडिया रैंकिंग, 2016) अप्रैल, 2016 में जारी की गई थी, जबकि इसका दूसरा संस्करण (इंडिया रैंंिकग, 2017) 3 अप्रैल, 2017 को जारी किया गया। 10 अप्रैल, 2017 को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने इस रैंकिंग में समग्र श्रेणी (Overall Category) में शीर्ष-10 (Top-10) स्थान प्राप्त करने वाले संस्थानों तथा विषय-आधारित श्रेणियों (Stream-wise Categories) यथा अभियांत्रिकी (Engineering), प्रबंधन (Management), विश्वविद्यालय, कॉलेज एवं फार्मेसी में सर्वोच्च स्थान पर रहने वाले संस्थानों को सम्मानित किया।
  • परिणाम
रैंकिंग : 2017 (समग्र श्रेणी)
शीर्ष 10 संस्थान
रैंकसंस्थानस्कोर
1भारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलोर83.28
2भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास73.97
3भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बंबई71.78
4भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर68.43
5भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली64.18
6जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली61.53
7भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर60.69
8भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी60.37
9भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की59.84
10बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी58.92
विभिन्न श्रेणियों में सर्वोच्च स्थान प्राप्त संस्थान
श्रेणीसंस्थानरैंक
अभियांत्रिकीभारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास1
प्रबंधनभारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद1
विश्वविद्यालयभारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलोर1
कॉलेजमिरांडा हाउस, दिल्ली1
फार्मेसीजामिया हमदर्द, दिल्ली1
  • रैंकिंग, 2017 : उत्तर प्रदेश के संस्थानों की स्थिति
  • देश के शीर्ष 100 उच्च शिक्षा संस्थानों की समग्र रैंकिंग में उत्तर प्रदेश के निम्न 7 संस्थानों को स्थान प्राप्त हुआ है :- भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर (रैंक-7), बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी (रैंक-10), अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़ (रैंक-19), भारतीय प्रबंधन संस्थान, लखनऊ (रैंक-51), भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (बीएचयू), वाराणसी (रैंक-70), एमिटी विश्वविद्यालय, गौतमबुद्ध नगर (रैंक-86) तथा शिव नाडर विश्वविद्यालय, चिथेरा (रैंक-96)।
  • विश्वविद्यालय श्रेणी में शामिल संस्थान
    बीएचयू, वाराणसी (रैंक-3), अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (रैंक-11), एमिटी विश्वविद्यालय (रैंक-52), शिव नाडर विश्वविद्यालय (रैंक-60), दयालबाग शिक्षण संस्थान, आगरा (रैंक-72), जेपी सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, नोएडा (रैंक-81), इलाहाबाद विश्वविद्यालय (रैंक-95)।
  • अभियांत्रिकी श्रेणी में शामिल संस्थान
    आईआईटी कानपुर (रैंक-5), आईआईटी (बीएचयू), वाराणसी (रैंक-31), जाकिर हुसैन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, अलीगढ़ (रैंक-40), मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, इलाहाबाद (रैंक-41), एमिटी विश्व-विद्यालय (रैंक-46), जेपी सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, नोएडा (रैंक-54)।
  • प्रबंधन श्रेणी में शामिल संस्थान
    आईआईएम, लखनऊ (रैंक-4), आईआईटी, कानपुर (रैंक-11), आईएमटी, गाजियाबाद (रैंक-24), बीएचयू, वाराणसी (रैंक-28),जयपुरिया प्रबंधन संस्थान, नोएडा (रैंक-43), बिरला प्रबंधन प्रौद्योगिकी संस्थान, ग्रेटर नोएडा (रैंक-45)।
    फार्मेसी श्रेणी की रैंकिंग में उत्तर प्रदेश के केवल एक संस्थान इंटिग्रल विश्वविद्यालय, लखनऊ (रैंक-25) को स्थान प्राप्त हुआ है, जबकि कॉलेज श्रेणी में शीर्ष 100 संस्थानों की सूची में उत्तर प्रदेश के किसी भी कॉलेज को स्थान प्राप्त नहीं हुआ है।
  • निष्कर्ष
    इंडिया रैंकिंग, 2017 में समग्र रूप से शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाला भारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलोर 7 मार्च, 2017 को जारी टाइम्स हायर एजुकेशन रैंकिंग, 2017 में ‘सर्वश्रेष्ठ छोटे विश्वविद्यालयों’ (Best Small Universities) की श्रेणी में भी विश्व के शीर्ष 10 संस्थानों में स्थान बनाने में सफल रहा है। भारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलोर को इस सूची में 8वां स्थान प्राप्त हुआ है। मार्च, 2017 में ही टाइम्स हायर एजुकेशन रैंकिंग में भारतीय विज्ञान संस्थान, बंगलोर को एशिया का 27वां सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय घोषित किया गया है। इस वर्ष एशिया के 300 सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों की सूची में भारत के 33 विश्वविद्यालय शामिल हैं जबकि विगत वर्ष यह संख्या मात्र 16 तक ही सीमित थी। मात्र एक वर्ष में ही सर्वश्रेष्ठ एशियाई विश्वविद्यालयों में भारत के प्रतिनिधित्व में दोगुने से भी अधिक की वृद्धि निश्चय ही भारत के उच्च शिक्षा क्षेत्र की गुणवत्ता में सुधार को इंगित करती है। एनआईआरएफ के तहत जारी इंडिया रैंकिंग, 2017 भी भारतीय संस्थानों को अपनी गुणवत्ता सुधारने हेतु प्रेरित करेगी। इस रैंकिंग से उत्कृष्टता प्राप्त करने हेतु संस्थाओं के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की शुरुआत होगी।

लेखक-सौरभ मेहरोत्रा